Gujarat Exclusive > देश-विदेश > हिंदी चीनी भाई-भाई, कोरोना वायरस से निपटने के लिए पीएम मोदी के प्रस्ताव का चीन ने दिया जवाब

हिंदी चीनी भाई-भाई, कोरोना वायरस से निपटने के लिए पीएम मोदी के प्रस्ताव का चीन ने दिया जवाब

0
631

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच चीन को दूसरे देशों से मदद के प्रस्ताव लगातार मिल रहे हैं और इसी कड़ी में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन को मदद का प्रस्ताव दिया था. प्रधानमंत्री मोदी ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को चिट्ठी लिखकर किसी भी तरह की मदद का प्रस्ताव दिया था. पीएम मोदी की चिट्ठी पर अब चीनी विदेश मंत्रालय का जवाब आया है और इस प्रस्ताव को भारत-चीन की गहरी दोस्ती का प्रतीक बताया है.

चीनी विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है, ‘भारत की ओर से कोरोना वायरस को लेकर जो समर्थन की बात कही गई, उसके लिए हम धन्यवाद करते हैं. भारत के द्वारा ऐसा कहना चीन के साथ उसकी गहरी दोस्ती को दर्शाता है. हम भारत और दुनिया के सभी देशों के साथ काम करने को तैयार हैं, ताकि इस वायरस के खिलाफ जंग लड़ सकें’.

पीएम मोदी ने लिखा था पत्र

बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को पत्र लिखा था. इसमें अभी तक कोरोना वायरस की वजह से चीन में हुए नुकसान पर शोक व्यक्त किया था और भारत की ओर से किसी भी तरह की सहायता की पेशकश की थी. अपने खत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हुबेई प्रांत से भारतीय नागरिकों को निकालने में चीनी सरकार के द्वारा की गई मदद का सराहना की थी.

 

चीन में अभी भी फंसे हैं 300 भारतीय छात्र

मालूम हो कि चीन में भारत के 300 से अधिक छात्र फंस गए थे, जिन्हें विदेश मंत्रालय ने चीन की सरकार की मदद से बाहर निकाला. एयर इंडिया के दो विमान चीन से भारतीय नागरिकों को वापस अपने देश लेकर आए और अब उनका यहां पर ट्रीटमेंट किया जा रहा है.

मरने वालों की संख्या में लगातार हो रहा है इजाफा

पिछले दो महीने में कोरोना वायरस का असर दुनियाभर में हुआ है. सिर्फ चीन में ही इस वायरस की वजह से 900 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है, जबकि हजारों लोग इसकी चपेट में हैं. कोरोना वायरस की वजह से चीन का अधिकतर दुनिया से संपर्क कम हो गया है. इसका व्यापक असर चीन की अर्थव्यवस्था पर पड़ा है.