Gujarat Exclusive > देश-विदेश > चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सैनिकों से कहा- युद्ध की करो तैयारी

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सैनिकों से कहा- युद्ध की करो तैयारी

0
420
  • सैन्य स्तर पर जारी है चीन और भारत के बीच बातचीत
  • चीन के नापाक इरादे का हुआ खुलासा
  • चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सैनिको से कहा युद्ध की करो तैयारी

इसी साल जून महीने में पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में होने वाले हिंसक झड़प के बाद से ही भारत और चीन के रिश्तों में तनाव की स्थिति बढ़ गई है. इस बीच कई बार सैन्य स्तर पर बातचीत कर दोनों देशों के बीच तनाव को कम करने की कोशिश की गई.

लेकिन अभी तक जितने भी सैन्य स्तर की बैठक हुई है ज्यादातर बेनतीजा ही साबित हुई है. इस बीच जानकारी सामने आ रही है कि चीन अंदर ही अंदर युद्ध की तैयारी कर रहा है.

चीन के नापाक इरादे का हुआ खुलासा

चीना के इस नापाक इरादे का खुलासा उस वक्त हुआ जब राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सेना को हाई अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया. इतना ही नहीं उन्होंने सैनिकों को युद्ध की तैयारी करने का भी निर्देश दिया है.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक शी जिनपिंग मंगलवार को गुआंगडोंग में मौजूद एक सैन्य अड्डे का दौरा किया था. इस दौरान उन्होंने सैनिकों को युद्ध की तैयारी का निर्देश दिया.

इतना ही नहीं उन्होंने पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी से कहा, ‘अपना पूरा दिमाग और ऊर्जा युद्ध की तैयारी पर लगाओ.

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी आ सकते हैं गुजरात, कृषि बिल के खिलाफ पंजाब की तर्ज पर करेंगें ट्रैक्टर रैली

मिल रही जानकारी के अनुसार गुआंगडोंग में शी जिनपिंग शेनझेन स्पेशल इकोनॉमिक जोन की 40 वीं वर्षगांठ के अवसर पर भाषण देना था. चीन की अर्थव्यवस्था को इस ऊचाई पर पहुंचाने में इसका काफी बड़ा योगदान है.

यहीं पर उन्होंने चीनी पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी से कहा, ‘अपना पूरा दिमाग और ऊर्जा युद्ध की तैयारी पर लगाओ.

गौरतबल है कि चीन पूर्वी लद्दाख की लगवान घाटी में हिंसक झड़प के बाद से लगातार भारतीय सीमा में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहा था.

लेकिन जब-जब चीनी सेना की ओर से ऐसा किया गया एलएसी पर मौजूद भारतीय सेना के जवानों ने उसे मुंहतोड़ जवाब दिया है. लेकिन ड्रैगन शांतिवार्ता के बीच अंदर ही अंदर युद्ध की तैयारियों में जुड़ा है.

वहीं वायुसेना डे के मौके पर भारतीय सेना कह चुकी है कि वह किसी भी हालात से निपटने को तैयार है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

बनासकांठा: हिरासत में लिए गए 50 किसान, विरोध प्रदर्शन के लिए जा रहे थे गांधीनगर