Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दुनियाभर में क्रिसमस की धूम, राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी शुभकामनाएं

दुनियाभर में क्रिसमस की धूम, राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी शुभकामनाएं

0
270

दुनियाभर में कोरोना महामारी के बीच आज क्रिसमस (Christmas) मनाया जा रहा है. क्रिसमस (Christmas) पार्टी के दौरान लोग कोरोना दिशानिर्देशों का खास ध्यान रख रहे हैं. हालांकि महामारी के प्रकोप के बीच लोगों का उत्साह बना हुआ है और लोग चर्च के बाहर प्रार्थना सभा के लिए पहुंच रहे हैं.

कोरोना महामारी के चलते कई देशों में क्रिसमस (Christmas) तक लॉकडाउन लगा दिया गया है. वहीं, सुरक्षा के लिहाज से कई क्रिसमस (Christmas) पार्टी स्पोट पर भी पाबंदी लगा दी गई है. ऐसे में क्रिसमस फेस्टिवल का रंग कुछ अलग देखने को मिलेगा लेकिन दोस्तों और परिवार के साथ क्रिसमस का त्योहार खुशियों भरा ही रहेगा.

यह भी पढ़ें: चेतन शर्मा बने बीसीसीआई के मुख्य चयनकर्ता, कुरुविला और मोहंती होंगे सदस्य

हर साल 25 दिसंबर को पूरी दुनिया क्रिसमस (Christmas) के तौर पर मनाती है. 24 दिसंबर की शाम से इस त्योहार का जश्न शुरू हो जाता है. खासतौर पर बच्चों के मन में क्रिसमस के त्योहार के लिए उमंग होती है, क्योंकि वह यह मानते हैं कि क्रिसमस की रात सांता आएंगे और उनकी सभी विशेज पूरी करेंगे.

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी शुभकामनाएं

क्रिसमस (Christmas) के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुभकामनाएं दी हैं. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर लिखा, ”क्रिसमस की हार्दिक शुभकामनाएं. मैं आशा करता हूं कि यह त्योहार शांति और समृद्धि का प्रसार करते हुए हमारे समाज में सौहार्द बढ़ाएगा. आइए, हम ईसा मसीह की प्रेम, करुणा और परोपकार की शिक्षाओं का अनुसरण करें और समाज व राष्ट्र के हित के लिए हमेशा संकल्पबद्ध रहें.”

 

वहीं मोदी ने कहा, “क्रिसमस की शुभकामनाएं. ईश्वर क्राइस्ट का जीवन और उनके सिद्धांत दुनियाभर में लाखों लोगों को शक्ति प्रदान करते हैं.” उन्होंने कहा, “सभी लोगों के प्रसन्न और स्वस्थ रहने की कामना करता हूं.”

क्यों मनाया जाता है क्रिसमस

क्रिसमस (Christmas) जीसस क्रिस्ट के जन्म की खुशी में मनाया जाता है. जीसस क्रिस्ट को भगवान का बेटा कहा जाता है. क्रिसमस का नाम भी क्रिस्ट से पड़ा. बाइबल में जीसस की कोई बर्थ डेट नहीं दी गई है, लेकिन फिर भी 25 दिसंबर को ही हर साल क्रिसमस मनाया जाता है. इस तारीख को लेकर कई बार विवाद भी हुआ. लेकिन 336 ई पूर्व में रोमन के पहले ईसाई रोमन सम्राट के समय में सबसे पहले क्रिसमस 25 दिसंबर को मनाया गया. उसके बाद से वह सिलसिला आज तक जारी है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें