Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद: बेटे के मौत से सदमे में मां, कोविड अस्पताल हर दिन पहुंचकर करती है वीडियो कॉल

अहमदाबाद: बेटे के मौत से सदमे में मां, कोविड अस्पताल हर दिन पहुंचकर करती है वीडियो कॉल

0
303

अहमदाबाद: कोरोना वायरस की वजह से बड़ी संख्या में लोगों की मौत दर्ज की जा रही है. कोरोना की वजह से कई परिवारों को अपने प्रियजनों को खोना पड़ा है. Civil Hospital child death mother in shock

60 वर्षीय मां पूनम सोलंकी भी अपने बेटो को खोने के बाद सदमे में आ गई हैं. मृत बेटे की देखभाल के लिए वह आज भी अहमदाबाद के सिविल अस्पताल के बाहर उसी स्थान पर आती है. जहां उसके बेटे ने अंतिम सांस ली थी.

पूनम सोलंकी विश्वास नहीं कर पा रही हैं कि उनके 30 वर्षीय बेटे महेंद्र का पिछले साल सितंबर में निधन हो गया था.

सदमे की वजह से हर दिन मां आती सिविल अस्पताल Civil Hospital child death mother in shock

टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, 24 सितंबर, 2020 को पूनम सोलंकी के बेटे महेंद्र का निधन हो गया था. आज भी पूनम सिविल अस्पताल पहुंचती हैं और फोन लगाकर कहती हैं, कैसा है बेटा?

क्या यह लोग खाना खिला रहे हैं? मैं शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना कर रही हूं. लोगों को लगता है कि पूनम अपने किसी रिश्तेदार से मिलने आती है. लेकिन इसमें हकीकत नहीं.

पूनम के बेटे की पिछले साल हो चुकी है मौत Civil Hospital child death mother in shock

इस सिलसिले में जानकारी देते हुए उसके रिश्तेदारों ने कहा कि पूनम सोलंकी को पता है कि महेंद्र अब इस दुनिया को छोड़ जा चुका है.

लेकिन बेटे के मौत से सदमे की वजह से वह अक्सर अपने मृत बेटे को देखने के लिए सिविल अस्पताल पहुंच जाती है.

हम पूनम को कई बार सिविल में उसी जगह पर ले जाते हैं, जहाँ उसने आखिरी बार अपने बेटे महेंद्र से बातचीत की थी.

वहां जाने पर उनको मानसिक शांति मिलती है. Civil Hospital child death mother in shock

हम जानते हैं कि यह सही नहीं है, लेकिन हमारे पास उसे राहत देने का इससे बेहतर कोई दूसरा तरीका नहीं है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अहमदाबाद कोरोना खौफ: पॉजिटिव मामलों में भारी वृद्धि, दिन में कर्फ्यू जैसा माहौल