Gujarat Exclusive > देश-विदेश > केजरीवाल बोले- दिल्ली में कोरोना बढ़ने की बड़ी वजह प्रदूषण, जल्द नियंत्रण की आशा

केजरीवाल बोले- दिल्ली में कोरोना बढ़ने की बड़ी वजह प्रदूषण, जल्द नियंत्रण की आशा

0
242

 देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना महामारी और प्रदूषण ने लोगों का जीना दुर्लभ कर रखा है. ऐसे में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Kejriwal) ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिवाली के बाद कई कदम उठाने के संकेत दिए. अपनी डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने (CM Kejriwal) कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में कोरोनावायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों की एक बड़ी वजह प्रदूषण है.

सीएम (CM Kejriwal) ने इसका ठीकरा पड़ोसी राज्यों पर भी फोड़ा और कहा कि पराली जलने की वजह से पूरे उत्तर भारत में प्रदूषण फैल रहा है. उन्होंने दिल्ली में बढ़ रहे प्रदूषण व कोरोना केस को लेकर आगाह करते हुए सामूहिक लक्ष्मी पूजन कार्यक्रम का आग्रह किया.

यह भी पढ़ें: तेजस्वी बोले- जनता का फैसला महागठबंधन के पक्ष में लेकिन नतीजा NDA के पक्ष में आया

उन्होंने (CM Kejriwal) कहा कि हम बीते कई सालों से देख रहे हैं कि अक्तूबर, नवंबर और दिसंबर के महीने में दिल्ली में प्रदूषण बढ़ जाता है, जिसका बड़ा कारण पराली का जलाया जाना है.

सीएम केजरीवाल ने कहा,

‘पराली जलाने की वजह से पूरे 1 महीने तक पूरा उत्तर भारत पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में धुआं ही धुआं होता है. उन्होंने कहा कि पिछले 10-12 साल से हर साल अक्टूबर और नवंबर में पराली जलने की वजह से पूरा उत्तर भारत परेशान रहता है.’

दिवाली की दी शुभकामनाएं

केजरीवाल (CM Kejriwal) ने दीपावली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि पराली की समस्या से किसान भी परेशान रहते थे लेकिन अब ऐसा नही होगा क्योंकि पूसा एग्रीकल्चर इन्स्टीट्यूट ने इसका समाधान निकाल लिया है. सीएम ने कहा कि वहां के वैज्ञानिकों ने ऐसा बायो डी कंपोजर बनाया है, जिसका घोल बनाकर छिड़कने से पराली 20 दिन के अंदर गल जाती है और खेतों में खाद बन जाती है. सीएम ने कहा कि दिल्ली सरकार ने दिल्ली 2000 एकड़ कृषि भूमि पर इसका छिड़काव करवाया है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें