Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात में कोरोना वैक्सीन जनवरी में आ सकती है, CM रूपाणी ने दिया संकेत

गुजरात में कोरोना वैक्सीन जनवरी में आ सकती है, CM रूपाणी ने दिया संकेत

0
429
  • कोरोना के बढ़ते आतंक के बीच राहत की खबर
  • अगले साल बाजार में स्वदेशी वैक्सीन आने की संभावना
  • सीएम रूपाणी ने कहा गुजरात में जनवरी में आ सकती है वैक्सीन 

गांधीनगर: एक तरफ देश में हर रोज कोरोना के नए मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है. वहीं दूसरी ओर एक और राहत की खबर सामने आ रही है कि भारत में जल्द ही कोरोना की वैक्सीन आ जाएगी.

जब तक कोरोना की वैक्सीन नहीं आ जाती तबतक एकमात्र समाधान सतर्क रहना और सरकारी दिशानिर्देशों का पालन करना है.

कोरोना वैक्सीन गुजरात में कब आएगी? इसे लेकर मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने संकेत दिया है.

CM रूपाणी ने दिया संकेत

दशहरा के दिन राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी वडोदरा के दौरे पर हैं. सरदार धाम परियोजना के उद्घाटन के अवसर पर, उन्होंने कोरोना वैक्सीन को लेकर संकेत देते हुए कहा कि गुजरात में कोरोना वैक्सीन अगले साल जनवरी तक आ जाएगी.

इस मौके पर सीएम रूपाणी ने कहा जबतक कोरोना की वैक्सीन नहीं आती लोगों को सरकारी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा.

उल्लेखनीय है कि कल एक ही दिन में, राज्य में कोरोना के 1021 नए मामले सामने आए थे. जबकि कोरोना की वजह से 6 लोगों की मौत दर्ज की गई थी.

जिसके बाद राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 1,66,254 हो गई है. वहीं इस वायरस की वजह से 3,682 लोगों की अबतक मौत हो चुकी है.

भारत सहित पूरी दुनिया में कोरोना के बढ़ते आंतक के बीच कोरोना वैक्सीन को विकसित करने के लिए दुनिया भर में शोध किए जा रहे हैं.

इस बीच भारतीय कंपनी भारत बायोटेक स्वदेशी कोरोना वैक्सीन “कोवैक्सिन” पर काम चल रहा है. ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने वैक्सीन के तीसरे चरण के परीक्षण को मंजूरी दे दी है.

कंपनी का कहना है कि कोरोना वायरस का यह स्वदेशी वैक्सीन अगले साल जून 2021 तक लॉन्च होने की संभावना है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

गुजरात में कोरोना के 1 लाख 66 हजार से ज्यादा मामले, 89% के ऊपर रिकवरी रेट