Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात NEP 2020 लागू करने वाला पहला राज्य बनेगा: रुपाणी

गुजरात NEP 2020 लागू करने वाला पहला राज्य बनेगा: रुपाणी

0
1251

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी (CM Vijay Rupani) ने शनिवार को कहा कि उनकी सरकार की योजना राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) 2020 को लागू करने की है. सीएम रुपाणी (CM Vijay Rupani) ने कहा कि इसके लिए एक रोडमैप बनाने के लिए जल्द ही एक टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा.

सीएम रुपाणी (CM Vijay Rupani) गांधीनगर में शिक्षक दिवस के अवसर पर 44 शिक्षकों को सम्मानित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रहे थे.

रुपाणी के मुताबिक,

“गुजरात एनईपी को लागू करने वाला पहला राज्य बनना चाहिए और भारत के भविष्य के लिए एक आदर्श बनने की प्रक्रिया को तेज करना चाहिए. नए एनईपी का गुजराती में अनुवाद किया गया है और जल्द ही गुजरात के लिए एक रोड मैप बनाने के लिए एक टास्क फोर्स का गठन किया जा रहा है”

रुपाणी (CM Vijay Rupani) कहा कि रोडमैप राज्य को प्राथमिक, माध्यमिक, बालवाड़ी (केजी) से लेकर पोस्ट-ग्रेजुएशन (पीजी) तक की शिक्षा सहित सभी स्तरों पर शिक्षा में व्यापक बदलाव करने में मदद करेगा.

सीएम रुपाणी (CM Vijay Rupani) ने कहा कि शिक्षक नई पीढ़ी की देखभाल करते हैं. वे नई पीढ़ी को ढालने में मदद करते हैं और उन्हें देश का भविष्य बनाने के लिए तैयार करते हैं,”

पीएम मोदी ने दी थी जानकारी

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले महीने आश्वासन दिया था कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को पूरी तरह से लागू किया जाएगा. उन्होंने कहा था कि पिछले तीन-चार सालों से हो रहे विचार-विमर्श और लाखों सुझावों पर मंथन के बाद नई शिक्षा नीति को मंजूरी दी गई है.

20 हजार लोगों को मिलेगी सरकारी नौकरी

उधर गुजरात में सरकारी नौकरी (Government Job) पाने की चाहत रखने वाले लोगों के लिए खुशखबरी है. गुजरात सरकार (Gujarat Government) ने एक विज्ञप्ति में कहा कि सरकारी नौकरियों के लिए चुने गए सभी उम्मीदवार जिन्हें अभी तक नियुक्ति पत्र नहीं मिला है, उन्हें नियुक्ति पत्र दिया जाएगा. साथ ही सरकार ने यह भी कहा कि वह जल्द ही अन्य खाली पड़ी सरकारी नौकरियों (Government Job) के लिए भर्ती की घोषणा करेगी.

मुख्यमंत्री विजय रुपाणी (CM Vijay Rupani) के मुताबिक, गुजरात में सरकारी नौकरियों (Government Job) में भर्ती की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है. प्रदेश में 8 हजारो पदों पर जल्द सरकारी नौकरी (Government Job) के लिए नियुक्ति की जाएगी. इस अलावा अगले 5 महीने में 20 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी.

मुख्‍यमंत्री रुपाणी (CM Vijay Rupani) ने एक उच्‍चस्‍तरीय बैठक में गुजरात पब्लिक सर्विक कमिशन, पंचायत सेवा पसंदगी मंडल,पुलिस, सामान्‍य प्रशासन, शिक्षा विभाग समेत सरकार के अलग-अलग विभागों में खाली पड़े पदों पर सरकारी नौकरी (Government Job) की भर्ती का आदेश दिया है.

यह भी पढ़ें: ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में गुजरात 10वें पायदान पर फिसला, यूपी की लंबी छलांग

सीएम रुपाणी (CM Vijay Rupani) ने गुजरात लोक सेवा आयोग (GPSC), गौ सेवा सेवा मंडल, पंचायत सेवा पासंदगी मंडल और पुलिस भर्ती, जीएडी और शिक्षा विभाग के अधिकारियों की एक बैठक के बारे में जानकारी दी.

विजय रुपाणी ने कहा,

विविध सरकारी पदों पर भर्ती प्रक्रिया पूरी कर ली गई है. 8 हजार पदों के लिए अभ्‍यर्थियों को शीघ्र नियुक्ति पत्र जारी कर दिये जाएं. अगले 5 महीने में विविध विभागों के 20 हजार पदों पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी (CM Vijay Rupani) ने कहा कि कोरोना महामरी के कारण कई पदों पर सरकारी नौकरी (Government Job) भर्ती प्रक्रिया में दिक्कतें आई हैं. उनका कहना है कि अब इन पदों पर भर्ती के लिए भी हालात सामान्‍य होते ही भर्ती प्रक्रिया को पूरा कर लिया जाए.

रुपाणी (CM Vijay Rupani) ने बताया कि पिछले चार सालों में प्रदेश में करीब सवा लाख युवाओं को सरकारी नौकरी (Government Job) दी गई है.

कांग्रेस ने उठाई थी आवाज

हाल ही में कांग्रेस ने युवाओं को सरकारी नौकरी (Government Job) की मांग की थी. इसके लिए पार्टी ने पूरे प्रदेश में मिस कॉल अभियान भी शुरू किया था. कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि राज्‍य में बीते एक दो साल में ही राज्‍य में 50 से अधिक विभाग व सार्वजनिक निगमों में 38 हजार से भी अधिक पदों पर भर्तीयां नहीं हुई है. कांग्रेस ने मांग की है कि राज्य में युवाओं को इन पदों पर शीघ्र सरकारी नौकरियां (Government Job) सरकार दे.

वहीं शनिवार को केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने फिर से साफ़ किया है सरकारी भर्तियों (Government Job) पर किसी भी प्रकार की कोई भी रोक नहीं लगाई गई है. यूपीएससी, रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड, एसएससी आदि के जरिए होने वाली भर्तियां पहले की तरह ही आगे भी जारी रहेंगी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें