Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कोका कोला के सीईओ की नसीहत, ‘दंगों से कारोबार पर पड़ता है असर, भारत ढूंढे समाधान’

कोका कोला के सीईओ की नसीहत, ‘दंगों से कारोबार पर पड़ता है असर, भारत ढूंढे समाधान’

0
188

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर देश भर में विरोध प्रदर्शन हो रहा है. देश की राजधानी  दिल्ली में दो गुटों में भड़की हिंसा से जान-माल का काफी नुकसान हुआ है. इस पर कोका कोला के चेयरमैन और सीईओ जेम्स क्विंसी ने कहा कि प्रोटेस्ट और दंगो का कारोबार पर गहरा असर होता है और भारत को लोकतांत्रिक तरीके से इसका समाधान खोजना चाहिए.

पत्रकारों से बातचीत के दौरान जेम्स क्विंसी ने कहा कि भारत में लोकतंत्र का होना एक बड़ी बात है और यही कारण है कि उनकी कंपनी भारत को एक लंबी संभावनाओं वाले बाजार को रूप में देखती है. देश में इस समय कुछ जगह धरने प्रदर्शन और दंगों की कई वारदात के बाजार पर असर के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘प्रोटेस्ट और दंगो का कारोबार पर गहरा असर होता है. भारत को लोकतांत्रिक तरीके से इसका समाधान खोजना चाहिए’

उन्होंने कहा कि साल 2019 में कंपनी ने एक बिलियन केस यूनिट बेचने का लक्ष्य पूरा किया. इसमें उसे 21 साल लगे. कंपनी अगले पांच साल में दो बिलियन केस यूनिटबेचना चाहती है. वहीं कोरोना वायरस के व्यापार पर असर पड़के के सवाल पर जेम्स ने कहा कि सप्लाई चैन के चलते अभी तक इसका कोई व्यापक असर देखने को नहीं मिला है, लेकिन अगर ऐसा चलता रहा तो निश्चित रूप से इसका असर वैश्विक बाजार पर पड़ेगा. मालूम हो कि कोका कोला की भारत में पहचान एक अच्छे पेय ब्रांड के रूप में है.