Gujarat Exclusive > राजनीति > कृषि कानून पर कांग्रेस का तंज, नाम किसान कानून लेकिन फायदा अरबपति दोस्तों का

कृषि कानून पर कांग्रेस का तंज, नाम किसान कानून लेकिन फायदा अरबपति दोस्तों का

0
284

देश के किसान नए कृषि कानून के खिलाफ आंदोलनरत हैं. दिल्ली कूच पर अड़े किसान राजधानी दिल्ली के बॉर्डरों पर डेरा जमाए बैठे हुए हैं. Congress on agriculture law

इस बीच कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मासिक प्रोग्राम मन की बात में किसानों को संबोधित करते हुए नए कृषि कानून के फायदे गिनाया बावजूद इसके किसान अपनी मांग पर अड़े हुए हैं.

पंजाब और हरियाणा के किसान सिंघु और टिकरी सीमा पर डटे हुए हैं. वहीं उत्तर प्रदेश की सीमा पर भी किसान डेरा डाल रखा है.

इस बीच कांग्रेस ने किसानों के बहाने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला है.

राहुल और प्रियंका गांधी ने बोला हमला 

पिछले कुछ दिनों से आंदोलनरत किसान केंद्र के प्रस्ताव को ठुकरा दिया है. किसानों के इस आंदोलन को विपक्षी पार्टियों का पूरा समर्थन प्राप्त है. Congress on agriculture law

इसी बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल और महासचिव प्रियंका गांधी ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है. कांग्रेस का कहना है कि किसान जब आवाज उठाता है तो उसकी आवाज पूरे देश में गूंजती है.

यह भी पढ़ें: हम किसी भी जाति को दे सकते हैं टिकट, लेकिन मुस्लिम को कभी नहीं: भाजपा मंत्री

स्पीक अप फॉर फार्मर्स कैंपेन का राहुल गांधी ने किया आगाज

कांग्रेस नेता राहुल गांधी किसानों के आंदोलन को समर्थन देते हुए ट्वीट कर लिखा ” मोदी सरकार ने किसान पर अत्याचार किए- पहले काले कानून फिर चलाए डंडे लेकिन वो भूल गए कि जब किसान आवाज उठाता है तो उसकी आवाज पूरे देश में गूंजती है. Congress on agriculture law

किसान भाई-बहनों के साथ हो रहे शोषण के खिलाफ आप भी स्पीक अप फॉर फार्मर्स कैंपेन के माध्यम से जुड़िए.” Congress on agriculture law

वहीं इस मामले पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि “नाम किसान कानून लेकिन सारा फायदा अरबपति मित्रों का.

किसान कानून बिना किसानों से बात किए कैसे बन सकते हैं? उनमें किसानों के हितों की अनदेखी कैसे की जा सकती है? सरकार को किसानों की बात सुननी होगी.

आइए मिलकर किसानों के समर्थन में आवाज उठाएं.” Congress on agriculture law

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

कृषि कानून का विरोध: केंद्रीय मंत्रियों की दी गई किसानों को समझाने की जिम्मेदारी