Gujarat Exclusive > गुजरात > सूरत में बेलगाम हुआ कोरोना, मैदान में उतरे IAS पंकज कुमार

सूरत में बेलगाम हुआ कोरोना, मैदान में उतरे IAS पंकज कुमार

0
7451

अनिल पुष्पांगदन, गांधीनगर: अहमदाबाद शहर के बाद अब सूरत में रॉकेट की गति से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग की अधिक सचिव बीते एक सप्ताह से सूरत में हैं. बावजूद इसके हालात में कोई बदलाव नहीं आए. जिसके बाद अब गुजरात सरकार ने सूरत नगर निगम की अतिरिक्त जिम्मेदारी राजस्व सचिव पंकज कुमार को दी है.

राज्य स्वास्थ्य विभाग की अधिक सचिव जयंती रवि कोरोना के कहर पर लगाम लगाने में बिल्कुल निष्फल साबित हुईं हैं. अहमदाबाद शहर के बाद डायमंड सिटी सूरत में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या में हर दिन वृद्धि दर्ज की जा रही है. स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख सचिव जयंती रवि बीते एक सप्ताह से सूरत में हैं. राज्य के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री भी सूरत शहर का दौरा कर सूरत नगर निगम के अधिकारियों के साथ बैठक की थी और कोरोना पर काबू पाने के लिए सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए थे. उससे पहले पूर्व सूरत म्युनिसिपल कमिश्नर मिलिंद तोरवणे को भी सूरत नगर निगम की अतिरिक्त जिम्मेदारी और म्युनिसिपल कमिश्नर बच्छाधि पानी की मदद करने की जिम्मेदारी दी गई है. इतना ही नहीं एक महीने पहले दो सेवानिवृत्त अधिकारी (गुजरात प्रशासनिक सेवा) को सूरत नगर निगम का ओएसडी बनाया गया था. इन तमाम कोशिशों के बाद भी सूरत में तेजी से फैलने वाले कोरोना के कहर पर लगाम नहीं लग रहा है. इसलिए सूरत म्युनिसिपल कार्पोरेशन की अतिरिक्त जिम्मेदारी अब राजस्व विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पंकज कुमार को दी गई है.

अहमदाबाद शहर में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर म्युनिसिपल कमिश्नर को इससे पहले बदला जा चुका है. बढ़ते मामलों पर काबू पाने के लिए राज्य सरकार ने अहमदाबाद मनपा की अतिरिक्त जिम्मेदारी पंकज कुमार को दी थी. अब राज्य सरकार ने सूरत में कोरोना पर काबू पाने के लिए एक बार फिर से पंकज कुमार को मैदान में उतारा है.

गुजरात के रिक्शा चालकों को अब पहननी पड़ेगी वर्दी, जारी की गई अधिसूचना