Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात में कोरोना का बढ़ता कहर, 50 फीसदी मौत सिर्फ अहमदाबाद सिविल अस्पताल में

गुजरात में कोरोना का बढ़ता कहर, 50 फीसदी मौत सिर्फ अहमदाबाद सिविल अस्पताल में

0
1046

गुजरात में अब तक कोरोना वायरस से हुई कुल मौतों में से करीब 50 प्रतिशत मौतें सिर्फ अहमदाबाद सिविल अस्पताल में हुई हैं. यह अस्पताल कोविड-19 मरीजों के लिए कब्रगाह बनता जा रहा है. नगर निकाय के आंकड़ों के अनुसार गुजरात में कोरोना से अब तक हुई कुल 749 मौतें हुई हैं.

गुजरात में कोरोना से 351 मौतें शहर के असारवा क्षेत्र में स्थित अहमदाबाद सिविल अस्पताल में हुई हैं. अहमदाबाद में कोरोना वायरस रोगियों का इलाज करने वाले अन्य सरकारी अस्पतालों में सोला सिविल अस्पताल और सरदार वल्लभभाई पटेल (एसवीपी) अस्पताल हैं. असारवा क्षेत्र में स्थित इस प्रमुख सिविल अस्पताल को एशिया में सबसे बड़े नगर निकाय अस्पतालों में से एक माना जाता है. यहां कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए 1,200 बेड आवंटित किए गए हैं.

अहमदाबाद नगर निगम की ओर से उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार बुधवार तक असारवा के सिविल अस्पताल में 351 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है. वहीं, 338 लोग अब तक यहां से ठीक होकर जा चुके हैं. इसके अलावा एसवीपी अस्पताल में 120 मरीजों की मौत हो चुकी है. यहां 935 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी गई है. सोला सिविल अस्पताल में 29 कोरोना मरीजों ने जान गंवाई है. यहां भर्ती रहे 53 रोगी कोरोना को मात दे चुके हैं.

अहमदाबाद के कांग्रेस विधायक गयासुद्दीन शेख ने मंगलवार को सिविल अस्पताल में उच्च मृत्यु दर और ठीक होने की दर कम होने पर सवाल उठाए. उन्होंने मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) से दखल देने की मांग की है. देश में अब कोरोना मरीजों की संख्या ज्यादा तेजी से बढ़ती जा रही है. गुजरात में कोरोना के 12,537 मामले सामने आ चुके हैं. इनमें से 5,219 मरीज ठीक होकर अस्पताल से छुट्टी पा चुके हैं.

गुजरात में कोरोना का कहर, कांग्रेस संक्रमितों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ का लगाया आरोप