Gujarat Exclusive > गुजरात > कोरोना कहर: सूरत में महिला डॉक्टर के साथ अभद्र व्यवहार, पड़ोसियों ने कहा यू गेट आउट ..!

कोरोना कहर: सूरत में महिला डॉक्टर के साथ अभद्र व्यवहार, पड़ोसियों ने कहा यू गेट आउट ..!

0
4277

सूरत: कोरोना वायरस को लेकर लंबे तालाबंदी के बीच जहां एक तरफ आम आदमी परेशान नजर आ रहा है. वहीं इस मुश्किल घड़ी में अपनी ड्यूटी निभा रहे डॉक्टरों को भी कई परेशानियों से दो-चार होना पड़ रहा है. शर्मसार करने वाला नया मामला सामने आया है गुजरात के डायमंड सिटी सूरत से जहां एक महिला चिकित्सक को उसके ही पड़ोसियों के अभद्र टिप्पणी का सामना करना पड़ा. कथित अभद्र व्यवहार करने वाले जोड़े को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. लेकिन पड़ोसियों के द्वारा अनुचित व्यवहार का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

मिल रही जानकारी के अनुसार सूरत के अडाजन इलाके में मौजूद राजहंस व्यू अपार्टमेंट में रहने वाली और स्थानिक सरकारी अस्पताल की महिला डॉक्टर के साथ उसके पड़ोसियों ने अभद्र व्यवहार किया. पड़ोसियों ने लोगों का इलाज करने वाली महिला पर कोरोना पॉजिटिव होने का आरोप लगाते हुए गाली गलौज भी किया.

महिला डॉक्टर ने इस घटना को अपने मोबाइल कैमरे में कैद कर लिया. जो अभी वायरल भी हो रहा है. पड़ोस में रहने वाला परिवार महिला डॉक्टर को धमकी दे रहा है और उसका मोबाइल लेने की कोशिश कर रहा है. इस दौरान वहां मौजूद लोग सिर्फ तमाशा देख रहे हैं, एक स्थानिक महिला बचाव के लिए सामने आती है लेकिन आरोपी पड़ोसी उसकी बात भी नहीं सुनता. मामले को लेकर पुलिस अधिकारी ने कहा कि महिला डॉक्टर द्वारा दी गई याचिका में पड़ोसी चेतन मेहता और उनकी पत्नी भावना सिविल अस्पताल में अपनी जिम्मेदारी अदा कर रही महिला डॉक्टर को कोरोना वायरस से संक्रमित बातकर पड़ोसी परिवार गाली-गलौज भी करता है.

इन दिनों पूरी दुनिया में कोहराम मचाने वाले कोरोना आतंक से लोग एक जुट होकर लड़ रहे हैं. विभिन्न देशों में फंसे नागरिकों को भारत लाया गया है. ऐसे लोगों का कोरोना परीक्षण करवाकर. अस्पतालों के आईसोलेशन वॉर्ड में रखा जा रहा है. जहां पर डॉक्टर और नर्स अपनी जान जोखिम में डालकर उनकी देखभाल कर अपनी जिम्मेदारियों को अदाकर रहे हैं. डॉक्टरों और नर्सों को देश के कई हिस्सों में ऐसे ही कथित टिप्पणी कर मकान खाली करने को कहा जा रहा है. ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के निर्देश के बाद भी उनके गृह राज्य गुजरात ऐसी घटना बनना अपने आपमें दुखद है.

शब-ए-बारात को लेकर मुख्तार अब्बास नकवी की अपील, मस्जिदों में नहीं बल्कि घर पर करें इबादत