Gujarat Exclusive > गुजरात > अहमदाबाद पुलिस की हिरासत से आरोपी फरार, कोरोना टेस्ट प्रक्रिया बना सिरदर्द

अहमदाबाद पुलिस की हिरासत से आरोपी फरार, कोरोना टेस्ट प्रक्रिया बना सिरदर्द

0
302

अहमदाबाद: गिरफ्तार आरोपी का अनिवार्य कोरोना का टेस्ट कराने और जहां तक रिपोर्ट नहीं मिल जाती आरोपी को नजरकैद में रखने की प्रक्रिया अब पुलिस के लिए सिरदर्द का सबब बन गई है.

चांदखेड़ा पुलिस ने शराब के एक आरोपी को गिरफ्तार किया था. कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट नहीं मिलने तक आरोपी को नजरकैद में रखा गया था.

लेकिन आरोपी मौका देखकर फरार होने में कामयाब रहा. Corona Test Police

शराब व्यापारी को पुलिस ने किया था गिरफ्तार

चंदखेड़ा पुलिस ने एक शराब व्यापारी पुनाराम को शराब के साथ गिरफ्तार किया था. आरोपी को साबरमती सेंट्रल जेल में भेज दिया था.

आरोपी को जमानत पर रिहा किया गया था. जिसके बाद एक बार फिर पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था. Corona Test Police

कोरोना टेस्ट प्रक्रिया पुलिस के लिए बना सिरदर्द

हिरासत में लेने के बाद आरोपी का कोरोना परीक्षण के लिए एक नमूना दिया गया था. इस परीक्षण की रिपोर्ट 24 घंटे में आती है.

इसलिए आरोपी को लॉकअप में नहीं रखा जाता बल्कि नियम का पालन करते हुए आरोपी को एक कमरे में नजरकैद रखा जाता है.

इस बीच आरोपी को पता चला कि पुलिस उस पर पासा के तहत मुकदमा दर्ज करने की तैयारी कर रही है. Corona Test Police

नजरकैद आरोपी मौका देखकर पुलिस स्टेशन से फरार हो गया. चांदखेड़ा पुलिस ने आरोपी को पकड़ने के लिए जांच शुरू की है. Corona Test Police

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आरोपी को हिरासत में लेने से पहले कोरोना का टेस्ट कराया जाता है जिसकी रिपोर्ट 24 घंटों के बाद आती है. इस दौरान आरोपियों को संभालना किसी चुनौती से कम नहीं.

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अगर रिपोर्ट फौरन मिले तो आरोपियों को सीधा जेल के हवाले कर दिया जाए. नजर कैद के दौरान के दौरान आरोपी के फरार होने की स्थिति बनी रहती है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अहमदाबाद में नाइट कर्फ्यू बढ़ाने का फैसला, पुलिस कमिश्नर ने किया ऐलान