Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कोरोना संक्रमितों की संख्या 42 लाख के पार, फिर दर्ज हुए 90 हजार से ज्यादा नए मामले

कोरोना संक्रमितों की संख्या 42 लाख के पार, फिर दर्ज हुए 90 हजार से ज्यादा नए मामले

0
599
  • भारत में लगातार दूसरे दिन दर्ज हुए 90 हजार से ज्यादा नए मामले
  • देश में संक्रमितों की संख्या 42 लाख के पार
  • अमेरिका के मुकाबले हर दिन दर्ज हुए रहे हैं दोगुना से ज्यादा मामले
  • भारत में हर सेकंड कोरोना की चपेट में आ रहे लोग

देश में कोरोना वायरस का कहर दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है. इस महीने की पहली तारीख को नए मामलों की संख्या में कुछ हद तक गिरावट दर्ज की गई थी.

लेकिन उसके बाद से ही कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहे है. भारत में आज दूसरे दिन भी रिकॉर्डतोड़ 90 हजार से ज्यादा नए मामले एक दिन में दर्ज किए गए हैं.

जिसके बाद देश में संक्रमितों की संख्या 42 लाख के पार पहुंच गई है.

90 हजार से ज्यादा नए मामले दूसरे दिन भी दर्ज

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह जारी ताजा आकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटों में एक बार फिर से रिकॉर्ड 90,802 नए मामले सामने आए हैं.

वहीं इस दौरान 1,016 लोगों की मौत दर्ज की गई. जिसके बाद देश में कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 42 लाख 4 हजार हो गई है.

वहीं इस वायरस की वजह से 71 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

यह भी पढ़ें: राजकोट में अब सर्दी- बुखार और खांसी की दवा लेने वालों का होगा कोरोना टेस्ट

एक्टिव मामलों की संख्या में भी भारी वृद्धि

भारत में बढ़ते कोरोना के आतंक का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों की लिस्ट में भारत अब ब्राजील को पीछे छोड़कर दूसरे पायदान पर पहुंच गया है.

वहीं पहले पायदान पर मौजूद अमेरिका के मुकाबले हर दिन दोगुना से तीनगुना ज्यादा नए मामले भारत में दर्ज किए जा रहे हैं. जिसके बाद देश में एक्टिव केस की संख्या 8 लाख 82 हजार हो गई है.

वहीं अबतक 32 लाख 50 हजार से ज्यादा लोग कोरोना को मात देने में कामयाब हुए हैं.

लेकिन इस बीच राहत की बात ये सामने आ रही है कि एक्टिव मामलों की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या साढ़ें तीन गुना से ज्यादा पहुंच गई है.


भारत में जारी कोरोना के आंतक की वजह से यहां हर दिन नए रिकॉर्ड बन रहे हैं. बढ़ते कोरोना मामलों की वजह से राज्य और केंद्र सरकार की चिंता को जरूर बढ़ा दिया है.

लेकिन इस महामारी पर काबू पाने के लिए जितने भी उपाय किए गए थे. वह सब धरे के धरे रह गए.

बीते कुछ दिनों से पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा नए मामले भारत में दर्ज किए जा रहे हैं.

देश में कोरोना के कहर का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यहां हर सेकेंड में एक से ज्यादा नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

सरकारी कर्मचारियों को बड़ा झटका, निजी कंपनियों के रास्ते पर रूपाणी सरकार