Gujarat Exclusive > देश-विदेश > देश में अगले 10 दिनों में कोरोना का टीकाकरण, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी

देश में अगले 10 दिनों में कोरोना का टीकाकरण, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी

0
373

भारत में कोरोना वायरस के टीकाकरण (Corona Vaccine) की तैयारियां जोर-शोर से चल रही है. डीसीजीआई से मंजूरी मिलने के बाद अब उस तारीख का इंतजार है जब लोगों को टीके की पहली खुराक दी जाएगी. इसी बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) को मंजूरी मिलने के 10 दिन बाद रोलआउट हो सकती है. स्वास्थ्य सचिव ने इस बात की जानकारी दी है.

मालूम हो कि कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) को डीसीजीआई ने देश में आपात इस्तेमाल के लिए 3 जनवरी को मंजूरी दी थी. इस लिहाज से 13 या 14 जनवरी से देश में कोरोना (Corona Vaccine) वैक्सीनेशन कार्यक्रम शुरू हो सकती है.

यह भी पढ़ें: जैक मा 2 महीने से लापता, क्या चीन ने कर रखा है नजरबंद?

स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्या कहा

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक,

वैक्सीन के इमरजेंसी यूज़ की मंजूरी मिलने के 10 दिन के भीतर वैक्सीन लगाना शुरू कर सकते हैं. हेल्थ केअर और फ्रंटलाइन वर्कर को कोविन एप पर रजिस्टर कराने की ज़रूरत नहीं होगी. इनका डेटा पहले ही सरकार के पास है लेकिन बाकी मामलों में रजिस्ट्रेशन की ज़रूरत होगी

एप के ज़रिए यूनीक हेल्थ ID generate कर सकते हैं. वैक्सीन (Corona Vaccine) लगवाकर एक QR कोड सर्टिफिकेट भी मिलेगा. अगर कोई देश, कोविन अप्प इस्तेमाल करना चाहे तो भारत सरकार इस मामले में मदद करेगी.

साथ ही स्‍वास्‍थ्‍य सचिव राजेश भूषण ने स्‍पष्‍ट किया कि हमने किसी वैक्सीन (Corona Vaccine) एक्सपोर्ट पर रोक नहीं लगाई है. उन्‍होंने कहा कि न स्वास्थ्य मंत्रालय, ना DGFT ने ना किसी और ने. भारत बायोटेक और सीरम ने भी साझा बयान जारी किया है. इनके बयान में भी एक्सपोर्ट बैन की कोई बात नहीं है. उन्‍होंने कहा कि वैक्‍सीन को 3 तारीख को मंजूरी मिली है, इसके अगले 10 दिन में हम रोल आउट के लिए तैयार हैं. आखिरी फैसला सरकार को करना है.

स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा,

देश में 4 प्राथमिक वैक्सीन स्टोर मौजूद है. ये स्टोर करनाल, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में है. इसके बाद देश 37 वैक्सीन केंद्र हैं. यहां वैक्सीन स्टोर किया जाएगा. फिर यहां से वैक्सीन को बल्क में जिला स्तर में भेजा जाएगा. जिला स्तर से इन वैक्सीन को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र फ्रीजर डब्बों में भेजा जाएगा.

बता दें कि डीसीजीआई ने भारत में दो कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) के इस्तेमाल को मंजूरी दी है. इसमें ऑक्सफोर्ड की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन शामिल हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें