Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > कोरोना की पहली स्वदेशी वैक्सीन तैयार, 15 अगस्त को लॉन्च करने की प्रक्रिया शुरू

कोरोना की पहली स्वदेशी वैक्सीन तैयार, 15 अगस्त को लॉन्च करने की प्रक्रिया शुरू

0
1426

कोरोना वायरस की वैक्सीन कब तक आएगी? इस सवाल का इंतजार पूरी दुनिया कर रही है लेकिन अब तक किसी ने स्पष्ट जवाब नहीं दिया है कि इस तारीख तक इस महामारी की वैक्सीन बाजार में आ सकती है. लेकिन भारत से कोरोना वैक्सीन को लेकर एक बड़ी और अच्छी खबर सामने आई है. खबर है कि देश में 15 अगस्त को कोरोना वायरस की वैक्सीन लॉन्च हो जाएगी.

यह वैक्सीन इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने हैदराबाद की भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड (BBIL) के साथ मिलकर बनाई गई है. इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने हैदराबाद की BBIL ने मिलकर जिस वैक्सीन को बनाया है उसका नाम BBV152 कोविड वैक्सीन रखा गया है. यह पूरी तरह से स्वदेशी है. आईसीएमआर ने देश के पहले स्वदेशी कोविड-19 टीके के इंसानों पर ट्रायल के लिए 12 संस्थानों का चयन किया है. ये ट्रायल सात जुलाई से शुरू हो रहे हैं.

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, इस काम को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए ICMR ने सभी स्टेकहोल्डर्स को पत्र लिखा है. इसमें कहा गया है कि इस काम को टॉप प्रायओरिटी पर करना है. ICMR ने भारत बॉयोटेक को लिखे एक पत्र में कहा है कि स्वदेशी कोरोना वैक्सीन का ट्रायल फास्ट ट्रैक मोड में किया जाए जिससे 15 अगस्त तक क्लीनिकल ट्रायल के रिपोर्ट को लॉन्च कर दिया जाए.

भार्गव ने अपने पत्र में लिखा है कि सभी क्लीनिकल ट्रायल के पूरा होने के बाद 15 अगस्त तक इस वैक्सीन को आम लोगों के लिए लॉन्च किए जाने की योजना है. भारत बायोटेक लक्ष्य को पूरा करने के लिए तेजी से काम कर रहा है, हालांकि, अंतिम परिणाम इस परियोजना में शामिल सभी क्लीनिकल ट्रालय साइटों के सहयोग पर निर्भर करेगा. आपको BBV152 COVID वैक्सीन के क्लीनिकल ​​टेस्ट स्थल के रूप में चुना गया है. COVID-19 महामारी और वैक्सीन लॉन्च करने की तात्कालिकता के कारण सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल के मद्देनजर आपको क्लिनिकल ट्रायल से संबंधित सभी अंतरालों को तेजी से ट्रैक करने की सलाह दी जाती है. आप सभी यह सुनिश्चित करें कि यह ट्रायल 7 जुलाई से शुरू हो जाएं.

CRPF जवान और बच्चे की हत्या करने वाले आतंकी को सुरक्षाबलों ने मार गिराया