Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कोरोना वायरस से बचाव के लिए क्या करें और क्या ना करें, जानिए सरकार के सुझाव

कोरोना वायरस से बचाव के लिए क्या करें और क्या ना करें, जानिए सरकार के सुझाव

0
1291

दुनिया के कई देशों में कोरोना वायरस का आतंक मचा हुआ है. इस वायरस की चपेट में आने वालों में अब भारत का नाम भी शुमार हो गया है. भारत में अभी तक 18 केस पाए गए हैं, जिनमें कोरोना वायरस के लक्षण हैं. लगातार कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए भारत सरकार की ओर से कई कदम उठाए जा रहे हैं. एयरपोर्ट पर यात्रियों की स्क्रीनिंग तेज कर दी गई है और लैब में लोगों की जांच की जा रही है.

सरकार ने कोरोना वायरस से जुड़ी किसी भी तरह की अफवाह से बचने, खुद की सुरक्षा के लिए कुछ निर्देश जारी किए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जो निर्देश जारी किए गए हैं, उनमें क्या करें और क्या ना करें के बारे में बताया गया है…

क्या करें ?

  • अपनी व्यक्तिगत स्वच्छता पर ध्यान दें.
  • एक दूसरे से दूरी बनाए रखें.
  • छींकने और खांसने के दौरान अपना मुंह जरूर ढंकें.
  • जब आपके हाथ गंदे दिखें, तब अपने हाथों को साबुन और पानी से जरूर धोएं.
  • जब आपके हाथ स्पष्ट रूप से गंदे न हो, तब भी अपने हाथों को हैंड वॉश से जरूर धोएं.
  • प्रयोग के बाद टिशू को तुरंत किसी बंद डिब्बे में फेंक दें.
  • अस्वस्थ होने पर डॉक्टर से मिलें.
  • अपनी आंखों, नाक और मुंह को छूने से बचें.
  • बुखार-खासी-सांस लेने में तकलीफ हो तो डॉक्टर से संपर्क करें.

क्या ना करें ?

  • अगर खांसी या बुखार है तो किसी के संपर्क में ना आएं.
  • सार्वजनिक स्थानों पर ना थूकें.
  • जीवित पशुओं से संपर्क, कच्चे-अधपके मांस के सेवन से बचें.
  • खेतों की यात्रा, जीवित पशुओं के बाजार या फिर जानवर का वध किए जाने वाले स्थान पर ना जाएं.

कैसे होती है कोरोना वायरस की जांच ?

– व्यक्ति की पहचान.

– पहचान के बाद सैंपल को टेस्ट के लिए भेजना.

– अगर सैंपल नेगेटिव हुआ तो डॉक्टर की सलाह के बाद मरीज को तुरंत छोड़ा जा सकता है अन्यथा 14 दिन की मॉनिटिरिंग में भी रखा जा सकता है.

– अगर सैंपल पॉजिटिव हुआ तो – कोरोना को लेकर जो प्रोटोकॉल जारी किया गया, उसका पालन होगा. चेस्ट रेडियोग्राफ के क्लियर होने, स्पेसिमेंस के नेगेटिव होने के 24 घंटे बाद ही मरीज को छोड़ा जा सकता है.

कोरोना वायरस की जानकारी कहां मिलेगी ?

सरकार ने ऐसी भी तैयारियां की हैं, जहां कोरोना वायरस को लेकर अपडेट दिए जा सकते हैं. ऐसे में किसी भी तरह की अफवाह से बचने के लिए सरकारी सुविधा का लाभ उठाकर सही जानकारी ली जा सकती है.

  • हेल्पलाइन नंबर – +91-11-23978046
  • ई-मेल आईडी- ncov2019[at]gmail[dot]com
  • स्वास्थ्य मंत्रालय के ट्विटर, फेसबुक पेज पर ताजा जानकारी उपलब्ध है.
  • स्वास्थ्य और विदेश मंत्रालय की ओर से ट्रैवल एडवाइजरी भी जारी की जा रही है.

कोरोना का कहर: इटली से आए 15 सैलानी कोरोना से पीड़ित, एम्स ने की पुष्टि