Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कोरोना के नए प्रकार पर WHO की सलाह- अभी नहीं हुआ बेकाबू, रोका जा सकता

कोरोना के नए प्रकार पर WHO की सलाह- अभी नहीं हुआ बेकाबू, रोका जा सकता

0
301

ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नए प्रकार (Covid-19 New Stain) से दहशत मच गई है. इसे काबू करने के लिए ब्रिटेन में लॉकडाउन (Lockdown) की घोषणा की गई है. वहीं भारत ने ब्रिटेन से आने वाली सभी फ्लाइट्स पर रोक लगा दी है. इस बीच, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कहा कि ब्रिटेन में पाया गया कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन (Covid-19 New Stain) अभी नियंत्रण से बाहर नहीं है और मौजूदा उपायों के जरिए इस पर काबू पाया जा सकता है.

ब्रिटेन के विशेषज्ञों का कहना है कि वायरस की यह नई किस्म (Covid-19 New Stain) 70 प्रतिशत ज्यादा तेजी से फैलती है, लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि नए स्ट्रेन को रोकना संभव है. संगठन के स्वास्थ्य आपात काल प्रमुख माइक रायन ने जिनेवा में एक प्रेस वार्ता में बताया, “स्थिति काबू से बाहर नहीं है लेकिन इसे अपने पर छोड़ा भी नहीं जा सकता है.”

यह भी पढ़ें: रैना और रंधावा कर रहे थे नाइट कर्फ्यू में पार्टी, हिरासत में लेने के बाद मिली जमानत

उन्होंने सभी देशों को उन सभी कदमों को उठाने को कहा जिनकी सफलता साबित हो चुकी है. संगठन के अनुसार, नए स्ट्रेन (Covid-19 New Stain) से जिन्हें संक्रमण हो जाता है वो औसतन 1.5 और लोगों को संक्रमित करते हैं , जबकि ब्रिटेन में पहले से मौजूद स्ट्रेनों की रिप्रोडक्शन दर 1.1 है. वायरस-विज्ञानियों के बीच इस बात पर लगभग सहमति भी है कि इस के आगे मौजूदा वैक्सीनें बेअसर नहीं होंगी.

आउट ऑफ कंट्रोल का दावा

इससे पहले, ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने दावा किया था कि वायरस का नया वेरिएंट (Covid-19 New Stain) नियंत्रण से बाहर है. ब्रिटिश अधिकारियों का कहना है कि वायरस का नया स्ट्रेन COVID के मुख्य स्ट्रेन (Covid-19 New Stain) की तुलना में 70 प्रतिशत तेजी से फैलता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के अधिकारी रेयान ने कहा, “मौजूदा वक्त में हम जो उपाय कर रहे हैं वो सही उपाय हैं.”

अलग किस्म पर टीका कितना प्रभावी

वैक्सीन बनाने वाली जर्मनी की कंपनी बायोएनटेक के मुताबिक कंपनी ने वैक्सीन की वायरस की 20 अलग अलग किस्मों के खिलाफ जांच कर चुकी है और उन जांचों में सफल इम्यून प्रतिक्रिया देखी गई है जिसने वायरस को निष्क्रिय कर दिया. नया स्ट्रेन एक और मजबूत म्युटेशन का नतीजा है और अगले दो हफ्तों तक वैक्सीन की इसके खिलाफ भी जांच की जाएगी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें