Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > स्वास्थ्य मंत्री का दावा, 2021 की शुरुआत में आ जाएगी कोरोना वैक्सीन

स्वास्थ्य मंत्री का दावा, 2021 की शुरुआत में आ जाएगी कोरोना वैक्सीन

0
379

कोरोना वायरस के कारण पूरे देश में त्राहिमाम की स्थिति है. बेशक नए मामलों की संख्या में अब कमी दर्ज की जा रही है लेकिन अभी भी हालात काबू में नहीं आए हैं. ऐसे में वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) ही इस महामारी को खत्म करने का कारगर उपाय नजर आ रहा है. इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कोरोना वायरस की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) को लेकर बड़ा बयान दिया है.

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि अगले साल की शुरुआत में भारत में वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) आने की संभावना है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि एक से ज्यादा सोर्स से वैक्सीन उपलब्ध हो सकती है.

यह भी पढ़ें: WHO ने की भारत की तारीफ, कहा- कोरोना के खिलाफ आरोग्य सेतु एप ने अदा की अहम भूमिका

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, ”हम उम्मीद कर रहे हैं कि अगले साल की शुरुआत में हमें एक से अधिक स्रोतों से देश में वैक्सीन मिल जाएगी. हमारे विशेषज्ञ पहले से ही देश में वैक्सीन के वितरण की योजना बनाने की रणनीति तैयार कर रहे हैं. पहले वैक्सीन किसे दी जाएगी, इसके साथ ही कोल्ड चेन सुविधओं को भी मजबूत किया जा रहा है.”

संडे संवाद कार्यक्रम में बोले हर्षवर्धन

अपने ‘संडे संवाद’ कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, ”हमारे पास वैक्सीन के लिए 40 कैंडिडेट हैं जो कि क्लीनिकल ट्रायल के अलग-अलग स्तर पर हैं और उनमें से 10 तीसरे चरण में हैं. ये हमें बताएंगे कि वैक्सीन कितनी सुरक्षित है.”

वहीं WHO की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि  2020 के आखिर तक या अगले साल के शुरू में रजिस्ट्रेशन के लिए एक टीका (Covid-19 Vaccine) तैयार हो जाएगा. मालूम हो कि दो कोरोना वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) का ट्रायल भारत में रुक हुआ है. ऐसे में अब इस बयान के बाद लोगों में वैक्सीन को लेकर उम्मीद बढ़ती नजर आ रही है.

मामलों में भारी गिरावट

उधर कोरोना वायरस के नए मामलों की बात करें तो लगातार नए मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है. पिछले 24 घंटे में देश भर में कोरोना के 55 हजार 342 नए केस सामने आए हैं जबकि 706 लोगों की मौत पिछले 24 घंटे में हुई है. नए केस की बात करें तो यह संख्या पिछले दो महीने में सबसे कम है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

उत्तर प्रदेश के गोंडा में दलित बहनों पर एसिड अटैक, एक की हालत गंभीर