Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > कोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ा दावा, फाइजर का टीका 90 फीसदी प्रभावी

कोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ा दावा, फाइजर का टीका 90 फीसदी प्रभावी

0
617

दुनिया में बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच एक अच्छी खबर सामने आई है. दवा कंपनी Pfizer ने कहा है कि शुरुआती नतीजों में कोरोना वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) 90 फीसदी से ज्यादा असरदार हो सकता है. कंपनी ने कहा कि उनकी वैक्सीन उन लोगों पर असरदार साबित हुई है जिनमें कोरोना के लक्षण पहले से दिखाई नहीं दे रहे थे.

एक स्वतंत्र डेटा निगरानी समिति द्वारा किए गए विश्लेषण के मुताबिक, अमेरिकी कंपनी फाइजर और जर्मन बायोटेक्नोलॉजी फर्म BioNTech द्वारा विकसित कोरोना वायरस वैक्सीन 90 प्रतिशत से अधिक प्रभावी है.

यह भी पढ़ें: गुजरात में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 लाख 81 हजार के पार

मालूम हो कि Pfizer अपने पार्टनर BioNTech के साथ कोरोना की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) बना रही है. Pfizer अमेरिकन और BioNTech जर्मन दवा कंपनी है. फाइजर (Pfizer) के अधिकारियों ने कुछ ही दिन पहले 2020 में ही कोरोनो वायरस वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) तैयार हो जाने की आशा व्यक्त की थी.

जल्दी मिल सकती है बेचने की अनुमति

ऐसे मनें अगर सब कुछ ठीक रहा तो इसी महीने के आखिर तक कंपनी की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) को बेचने की मंजूरी मिल सकती है. वैश्विक महामारी को रोकने के लिहाज से यह निश्चित तौर पर बहुत ही उम्मीद जगाने वाली खबर है.

फाइजर ने क्या कहा

फाइजर के अध्यक्ष और सीईओ अल्बर्ट बोरला ने एक बयान में कहा कि हमारे तीसरे चरण के परीक्षण से कोविड -19 को रोकने के लिए हमारे टीके की क्षमता का पता चला है. साथ ही कंपनी की तरफ से कहा गया है कि आपूर्ति अनुमानों के आधार पर 2020 में वैश्विक स्तर पर 50 मिलियन वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) खुराक और 2021 में 1.3 बिलियन खुराक तक आपूर्ति करने की उम्मीद है.

ट्रंप ने जाहिर की खुशी

वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) को लेकर कंपनियों के दावे के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर कहा कि जल्द ही वैक्सीन आएगी. रिपोर्ट 90 प्रतिशत प्रभावी है. यह अच्छी खबर है.

 

मालूम हो कि विश्व में कोरोना वायरस के मामले बढ़कर 5.2 करोड़ के पार चले गए हैं. विश्वभर में वायरस से 12 लाख से अधिक लोगों की मौत भी हो चुकी है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें