Gujarat Exclusive > देश-विदेश > बिहार में बढ़ा कोरोना का आतंक, पटना में एक हफ्ते का पूर्ण लॉकडाउन

बिहार में बढ़ा कोरोना का आतंक, पटना में एक हफ्ते का पूर्ण लॉकडाउन

0
870

महाराष्ट्र, तमिलनाडु और दिल्ली में कोरोना की रफ्तार पहले ही भयावह स्थिति धारण किए हुए है. ऐसे में अब देश के दूसरे राज्यों से भी कोरोना की डराने वाली खबरें सामने आ रही हैं. बिहार में भी तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों ने हड़कंप मचा रखा है. बुधवार को एक दिन में राज्य के अलग-अलग जिलों से 700 से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए हैं.

बुधवार को बिहार में आए कुल 700 से ज्यादा नए मामलों में से 237 केस सिर्फ राजधानी पटना के हैं. पटना के हालात को देखते हुए जिलाधिकारी ने जिले में 10 से 16 जुलाई तक पूर्ण लॉकडाउन लगाने का आदेश जारी कर दिया है. वहीं भागलपुर में लॉकडाउन कर दिया गया है. 9 जुलाई की सुबह 6 बजे से जिले में लॉकडाउन शुरू हो जाएगा जो अगले 5 दिनों तक जारी रहेगा.

लॉकडाउन के चलते जिले के सभी धार्मिक स्थलों को फिर से लॉकडाउन किया गया है. लॉकडाउन के दौरान जरूरत के सामान वाली दुकानें एक दिन में दो चरणों में खोलने की इजाजत दी गई है. पूर्ण लॉकडाउन के दौरान फल सब्ज़ी, मांस-मछली की दुकानें सुबह 6 से सुबह के 10 बचे तक खुलेंगी और फिर बंद हो जाएंगी. इसके बाद दुकानें शाम 4 से 7 तक ही खुलेंगी. संपूर्ण लॉकडाउन के दौरान हॉस्पिटल, बैंक, बीमा ऑफिस और एटीएम को इस से बाहर रखा गया है. उनकी सेवाएं पहले की तरह की जारी रहेंगी.

बिहार में बुधवार राज्य में एक दिन में सर्वाधिक 749 पॉजिटिव केस मिले हैं. इसी के साथ राज्य में अबतक कोरोना के 13,274 संक्रमित मरीज हो चुके हैं जबकि इलाज के बाद राज्य में 9338 कोरोना संक्रमित ठीक होकर घर लौट चुके हैं. वहीं राज्य में 98 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है. पटना में कोरोना मरीजों की संख्या 1000 के पार हो गई है.

अमेरिका के पियर्स को हुआ केरल से प्यार, बसने के लिए किया कोर्ट का रुख