Gujarat Exclusive > देश-विदेश > पूरे देश में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन जारी, तैयारियों का लिया जा रहा है जायजा

पूरे देश में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन जारी, तैयारियों का लिया जा रहा है जायजा

0
253

भारत में कोरोना वैक्सीन की तैयारियों का जायजा लेने के लिए पूरे देश के कई चुनिंदा जगहों पर ड्राई रन (Dry Run) शुरू हो चुका है. लॉजिटिक्स एवं ट्रेनिंग में खामियों की जांच करने के लिए आज सभी राज्यों में ड्राई रन (Dry Run) शुरू किया जा रहा है. दिल्ली, कोलकाता, पुणे, बेंगलुरु और मुंबई जैसे बड़े शहरों के अलावा देश के कई हिस्सों में ड्राई रन का आयोजन हो रहा है.

इसके साथ ही जमीनी स्तर पर कोविन (CoWIN) सुविधा का भी परीक्षण किया जा रहा है. टीकाकरण अभियान को शुरू करने और उसमें तेजी लाने के लिए कोविन को तैयार किया गया है, जो कि एक डिजिटल प्लेटफॉर्म है.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री बूटा सिंह का निधन, दलितों के लिए थे मसीहा

सभी राज्यों में प्रस्तावित ड्राई रन

ये ड्राई रन (Dry Run) कम से कम 3 सेशन साइटों में सभी राज्य की राजधानियों में आयोजित करने का प्रस्ताव है. वहीं कुछ राज्यों में ऐसे जिले भी शामिल होंगे जो दूर दराज इलाके में हैं. इसके अलावा महाराष्ट्र और केरल में राजधानी के अलावा अन्य प्रमुख शहरों में भी ड्राई रन (Dry Run) का कार्यक्रम होगा. सभी राज्यों में होने वाले ड्राई रन 20 दिसंबर 2020 को मंत्रालय द्वारा जारी ऑपरेशनल गाइडलाइन के अनुसार हो रहा है.

अफवाहों पर स्वास्थ्य मंत्री की अपील

उधर ड्राई रन (Dry Run) के बीच कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा, ‘देश के लोगों को मेरी अपील है कि वो किसी भी अफवाह में न जाएं. भारत की सरकार देश के लोगों को कोविड-19 से सुरक्षित रखना चाहती है, वैक्सीन का विकास उसी प्रक्रिया का हिस्सा है.’

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा, पिछले साल के अंत में हमने ड्राई रन किया था उस समय जो सुझाव लोगों ने दिए थे, उन्हें इस बार शामिल किया गया है. हम लोग इसके लिए पिछले चार महीनों से तैयारी कर रहे हैं. आप लोगों ने इतना धैर्य रखा है थोड़ा और इंतजार कीजिए.

बता दें कि भारत में पहली कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड को आपात इस्तेमाल की मंजूरी मिली है. शुक्रवार को विशेषज्ञ समिति की बैठक के बाद इसको मंजूरी दी गई है. इस वैक्सीन को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया उत्पादित कर रही है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें