Gujarat Exclusive > कोरोना को खत्म करने वाला माउथ स्प्रे तैयार, 98% संक्रमण मिटाने का दावा

कोरोना को खत्म करने वाला माउथ स्प्रे तैयार, 98% संक्रमण मिटाने का दावा

0
1573

पूरी दुनिया को कोरोना की वैक्सीन का बेसब्री से इंतजार है. कई देश वैक्सीन बनाने की रेस में काफी आगे पहुंच गए हैं लेकिन अभी तक कुछ तारीख तय नहीं हो पाई है कि कब तक यह लोगों के उपयोग के लिए बाजार में उपलब्ध होगी. फिलहाल स्वीडन की एक कंपनी ने एक बड़ा दावा पेश किया है. कंपनी ने कोरोना वायरस के खात्मे के लिए एक माउथ स्प्रे तैयार किया है और उसने दावा किया है कि यह माउथ स्प्रे 98 फीसदी तक संक्रमण को खत्म कर सकता है.

सीएनबीसी की एक खबर के मुताबिक, स्वीडिश लाइफ साइंस कंपनी एनजाइमेटिका ने कोरोना वायरस के खात्मे के लिए एक माउथ स्प्रे तैयार किया है। कंपनी का दावा है कि उसने जो स्प्रे विकसित किया है, वह कोरोना वायरस को कुछ ही मिनटों में मार देगा. एनजाइमेटिका कंपनी ने इस माउथ स्प्रे को लेकर 20 जुलाई को रिसर्च के बाद प्रारंभिक रिपोर्ट जारी की है.

20 मिनट में 98.3 फीसदी संक्रमण खत्म

रिपोर्ट में कंपनी ने दावा किया है कि नए कोरोना वायरस को इस स्प्रे से 98.3 फीसदी तक खत्म किया जा सकता है. कंपनी का दावा है कि इस से 20 मिनट में कोरोना वायरस को खत्म किया जा सकता है. स्वीडिश कंपनी ने अमेरिका में माइक्रोबाक्स प्रयोगशालाओं के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय परीक्षण की विधि से इस स्प्रे पर शोध किया है.

कई अन्य वायरस से बचाने में सक्षम

कंपनी की मानें तो यह ओरल स्प्रे अन्य कई वायरस से भी बचाव करने में सक्षम है. रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि इस ओरल स्प्रे से सर्दी, खांसी और बुखार भी दूर हो जाता है. कंपनी ने इस एंजाइमैटिक ओरल स्प्रे को कोल्डजाइम नाम दिया है. कंपनी ने कहा कि इन विट्रो (लैब टेस्ट) के नतीजों से पता चला है कि यह ओरल स्प्रे इंसानी शरीर को कई प्रकार के कोरोना वायरस से बचाने में कारगर है.

वैक्सीन का इंतजार

गौरतलब है कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के कारण आतंक का माहौल है. वहीं कोरोना वैक्सीन को लेकर 100 से ज्यादा वैक्सीन का ट्रायल चल रहा है. इसमें से कई एडवांस स्टेज पर पहुंच गई हैं जिसमें ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन और अमेरिका की मोडर्ना की वैक्सीन शामिल हैं. वहीं भारत की दो स्वदेसी वैक्सीन का भी ह्यूमन ट्रायल शुरू हो चुका है. हालांकि अभी इसकी उपलब्धता को लेकर कोई सटीक जानकारी नहीं मिल पाई है. ऐसे में स्वीडिश कंपनी द्वारा माउथ स्प्रे को लेकर किए गए दावे संक्रमण से बचाव में अहम भूमिका निभा सकते हैं.

कोरोना संक्रमण को रोकने में N-95 मास्क कारगर नहीं, सरकार ने जारी की चेतावनी