Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात के तट से टकराएगा ‘चक्रवाती तूफान जवाद’, मौसम विभाग ने दी चेतावनी

गुजरात के तट से टकराएगा ‘चक्रवाती तूफान जवाद’, मौसम विभाग ने दी चेतावनी

0
153

गांधीनगर: बंगाल की खाड़ी में कम दबाव के क्षेत्र की वजह से बने ‘जवाद चक्रवात’ के 4 दिसंबर को भारत के तटीय इलाकों में पहुंचने का अनुमान है. मौसम विभाग के मुताबिक ओड़िसा, आंध्र प्रदेश के अलावा गुजरात के तट से भी यह तूफान टकराएगा. इस दौरान 45 से 55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान है. 2 से 6 दिसंबर तक दक्षिण गुजरात के तट पर हवाएं चलने की संभावना है. इसलिए इस दौरान मछुआरों को समुद्र में नहीं उतरने का निर्देश दिया गया गया है. इसके इलावा समुद्र में मौजूद सभी नावों को भी वापस लौटने का निर्देश दिया गया है.

बंगाल की खाड़ी में दबाव के चलते एक बार फिर तूफान का संकट मंडरा रहा है. आंध्र प्रदेश और उड़ीसा में कल चक्रवाती तूफान दस्तक दे सकता है. बंगाल की खाड़ी में एक तूफान आकार ले रहा है जो शनिवार, 4 दिसंबर तक आंध्र प्रदेश, उड़ीसा के तट पर पहुंच जाएगा. इस तूफान का नाम ‘जवाद’ रखा गया है. इस तूफान का असर गुजरात में भी देखने को मिलेगा.

तूफान जवाद के प्रभाव के तहत गुजरात के मछुआरों को सतर्क कर दिया गया है. बंगाल की खाड़ी में हलचल के कारण मौसम विभाग ने आज से चार दिनों तक उड़ीसा और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश की चेतावनी दी है. इसके अलावा मौसम विभाग ने मुंबई में भी भारी बारिश की चेतावनी दी है, जिसके बाद गुजरात में मौसम बदल गया है.

गुजरात में कम दबाव और पश्चिमी विक्षोभ के चलते मानसून जैसा मौसम देखने को मिल रहा है. सूरत में पिछले 2 दिनों से बारिश और ठंड का कहर देखने को मिल रहा है. इसके अलावा दक्षिण गुजरात के तट पर हवा तेज गति से बह रही है.

गुजरात कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष के रूप में जगदीश ठाकोर के नाम की आधिकारिक घोषणा