Gujarat Exclusive > देश-विदेश > भांजी से छेड़खानी का विरोध करने वाले पत्रकार की मौत

भांजी से छेड़खानी का विरोध करने वाले पत्रकार की मौत

0
753

भांजी से छेड़खानी का विरोध करने वाले पत्रकार की मौत, परिजन ने शव लेने से किया इनकार

राजधानी दिल्ली से सटे गाजियाबाद में भांजी के साथ. छेड़खानी का विरोध करने वाले पत्रकार को सोमवार रात बदमाशों ने गोली मारी दी थी, .जिंदगी और मौत से जंग लड़ रहे पत्रकार विक्रम जोशी की आज सुबह मौत हो गई. उनकी (पत्रकार की मौत) मौत की खबर सामने आने के बाद .जहां उत्तर प्रदेश की सियासत गरम हो गई है. वहीं दूसरी तरफ परिजन मुख्य आरोपी के गिरफ्तारी. तक शव को लेने से इनकार कर दिया है.

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए विक्रम जोशी के भांजे ने कहा .कि मुख्य आरोपी के पकड़े जाने तक हम अपने मामा के पार्थिव शरीर को नहीं लेंगे.

विक्रम जोशी के भांजे ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि मेरी बहन के साथ कमालउद्दीन नामक एक शख्स का लड़का छेड़छाड़ करता था जिसे लेकर हमने पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई थी, लेकिन पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कोई कार्यवाई नहीं की जिसकी वजह से आज मेरे मामा इस दुनिया में नहीं रहे. जबतक पुलिस मुख्य आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर लेती हम उनका शव नहीं लेंगे.

यह भी पढ़े : श्रीनगर के उर्दू अखबार ने खबर के साथ पाठकों तक पहुंचाया फ्री मास्क

मिल रही जानकारी के अनुसार सोमवार रात वह विक्रम जोशी अपने भांजी के जन्मदिवस के मौके पर उसके घर जा रहे थे लेकिन इसी दौरान गाजियाबाद के विजयनगर इलाके में बदमाशों ने उनको घेर लिया और गोली मारकर फरार हो गए. माना जा रहा है कि भांजी के साथ छेड़छाड़ के मामले को लेकर उन्होंने कुछ दिन पहले विजयनगर थाना में शिकायत दर्ज कराई थी. जिसके बाद बदमाशों ने उन्हे अपना निशाना बनाते हुए गोली मार दी थी.

To read latest news in English, click here.

विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में देंगे चुनौती