Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कोरोना वायरस : चीन में मौत का आंकड़ा 1800 के पार, 200 भारतीयों को मिली छुट्टी

कोरोना वायरस : चीन में मौत का आंकड़ा 1800 के पार, 200 भारतीयों को मिली छुट्टी

0
270

चीन में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है और वहां इस वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है. कोरोना (COVID-19) से चीन में 31 प्रांत प्रभावित हैं. इनमें सबसे ज्यादा हुबेई प्रांत के वुहान शहर में संक्रमण फैल रहा है. कोरोना वायरस यहीं से शुरू हुआ था. चीन में कोरोना से अबतक 1800 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है जबकि कुछ लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी भी दी गई है. हालांकि बताया जा रहा है कि यह आंकड़ा सरकारी है जबकि इससे प्रभावित होने वालों की संख्या इससे कही ज्यादा है.

71000 से ज्यादा कंफर्म मामले

चीन से शुरू हुआ कोरोना दुनिया के 28 देशों में पैर फैला चुका है. समाचार एजेंसी शिन्हुआ न्यूज के मुताबिक चीन में 98 और लोगों की मौत हो गई और दुनिया भर में कुल कन्फर्म केस की संख्या 71,336 तक पहुंच गई है. हालांकि कुछ लोगों को इलाज के बाद छुट्टी भी मिल रही है. पूरी दुनिया में अबतक 12,921 लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई, इनमें चीन में 11,145 लोग इलाज के बाद ठीक हो गए. कोरोना के कारण दुनिया भर में अभी 11,298 लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है. इनमें अकेले चीन में 11,272 लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है.

चीन से लौटे 200 भारतीयों को से मिली छुट्टी

भारत कोरोना वायरस के प्रकोप से सुरक्षित है. दिल्ली के छावला स्थित आईटीबीपी कैंप में आधे से ज्यादा एहतियातन रोके गए लोगों को कैंप से जाने के लिए कह दिया गया है. मेडिकल टीम ने रोके गए लोगों को एक हेल्थ सर्टिफिकेट भी दिया और कहा कि अब आप जाने के लिए स्वतंत्र हैं. चीन के वुहान शहर से भारत सरकार ने 650 भारतीय और 7 मालदीव के लिए नागरिकों को एयलिफ्ट किया था. उनमें से 409 लोगों के लिए छावला में कैंप तैयार किया गया था, जहां उनकी निगरानी हो रही थी. सोमवार को लगभग 200 लोगों को ठीक पाया गया और उन्हें कहा गया कि वे अब जा सकते हैं. कैंप से डिस्चार्ज लोगों में कई छात्र, योग प्रशिक्षक, बिजनेसमैन और प्रोफेसर भी शामिल हैं.

जापानी क्रूज पर 6 भारतीय संक्रमित

उधर जापान के तट पर खड़े क्रूज डायमंड प्रिंसेस पर फंसे लोगों में से 6 भारतीय भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. भारतीय दूतावास की ओर से जारी बयान में कहा गया कि कोरोना वायरस से पीड़ित 4 भारतीय क्रू मेंबर्स का इलाज चल रहा है और उनकी स्थिति स्थिर है. भारतीय दूतावास ने ट्वीट कर जानकारी दी थी कि जहाज पर COVID-19 के लिए अंतिम जांच 17 फरवरी को शुरू होगी और कई दिनों तक चलेगा.