Gujarat Exclusive > देश-विदेश > चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 2300 के पार, वुहान जाएगी WHO की टीम

चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 2300 के पार, वुहान जाएगी WHO की टीम

0
86

चीन में कोरोना वायरस का प्रकोप कम होने का नाम नहीं ले रहा है और इस वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या में लगातार बढोतरी देखने को मिल रही है. कोरोना वायरस के चलते 109 और मौतों के साथ इससे मरने वालों की संख्या 2,345 पर पहुंच गई है जबकि 76,288 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि कोविड-19 बीमारी के प्रकोप की जांच के फिलहाल देश में मौजूद विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के विशेषज्ञ सर्वाधिक प्रभावित वुहान शहर का शनिवार को दौरा कर सकते हैं.

चीन के एक स्वास्थ्य अधिकारी ने शनिवार को बताया कि शुक्रवार को कुल 397 लोगों में कोविड-19 की पुष्टि हुई है जबकि 31 प्रांतीय स्तर के क्षेत्रों से 109 लोगों की मौत होने की खबर मिली है. राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) की नियमित रिपोर्ट में शनिवार को कहा गया है कि शुक्रवार के अंत तक बीमारी से कुल 2,345 लोगों की मौत हो गई और देश भर के 76,288 लोगों में कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई है.

रिपोर्ट के अनुसार इनमें से 106 मौत वायरस के केंद्र हुबेई प्रांत में वहीं एक-एक मौत हेबई, शंघाई और शिनजियांग प्रांत में हुई है. प्रांतीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि हुबेई प्रांत में शुक्रवार तक 106 मौतों के साथ ही 366 और लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. इसमें बताया गया कि नयी रिपोर्ट के मुताबिक सर्वाधिक प्रभावित प्रांत में 63,455 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है. एनएचसी ने कहा पूरे चीन में वायरस से संक्रमित 20,659 मरीजों की हालत में सुधार आने के बाद शुक्रवार को उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक तेदरोस अदहानोम ग्रेबेयसेस ने शुक्रवार की जिनेवा में मीडिया से कहा कि कोरोना वायरस प्रकोप की जांच के लिए वर्तमान में चीन में मौजूद अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों की डब्ल्यूएचओ नीत टीम शनिवार को वुहान जाएगी. सोमवार को चीन पहुंची 12 सदस्यीय टीम को शुरुआत में बस बीजिंग, गुआंगदोंग और शिचुआन प्रांत जाने की इजाजत थी जबकि बुरी तरह प्रभावित हुबेई प्रांत और उसकी राजधानी वुहान सूची में से गायब थे. हालांकि चीनी सरकार ने अंतत: टीम को वुहान जाने की इजाजत दे दी.