Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दीप सिद्धू की जानकारी देने वालों को मिलेगा 1 लाख रुपए का ईनाम: दिल्ली पुलिस

दीप सिद्धू की जानकारी देने वालों को मिलेगा 1 लाख रुपए का ईनाम: दिल्ली पुलिस

0
511

भारत जब अपने 72वें गणतंत्र दिवस का जश्न मना रहा था उसी दिन राजधानी दिल्ली में ऐसी घटना घटित हुई जिसे भारत के इतिहास में काले अक्षरों में लिखा जाएगा. Deep Sidhu Delhi Police

दरअसल मोदी सरकार द्वारा लागू तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों ने गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकालने का ऐलान किया था.

दिल्ली पुलिस ने रैली को लेकर रूट और समय तय किया था. लेकिन किसान तय समय से पहले दिल्ली में जबरदस्ती घुस गए. उसके बाद जो कुछ हुआ उससे पूरा देश शर्मसार हो गया.

दिल्ली पुलिस ने ईनाम का किया ऐलान

जहां किसान नेता हिंसा करने वाले प्रदर्शनकारियों से अपने आप को अलग कर रहे हैं. वहीं लाल किला पर ध्वज लहराने वाले पंजाबी एक्टर दीप सिद्धू को हिंसा का जिम्मेदार ठहराया जा रहा है.

अब इस मामले को लेकर दिल्ली पुलिस ने बड़ा ऐलान किया है. Deep Sidhu Delhi Police

पुलिस ने पंजाबी एक्टर दीप सिद्धू, जुगराज सिंह, गुरजोत सिंह और गुरजंत सिंह की जानकारी देने वाले को एक लाख रुपए का ईनाम देने का ऐलान किया है.

दीप सिद्धु के खिलाफ दर्ज हो चुका है मामला  Deep Sidhu Delhi Police

पंजाबी एक्टर दीप सिद्धू का नाम सामने आने के बाद पीएम मोदी और अभिनेता से नेता बने सन्नी देओल के साथ वाली फोटो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है.

पुलिस द्वारा तय समय और रूट से पहले किसानों ने बेरिकेट्स तोड़कर दिल्ली में घुस गए थे. इसी दौरान कुछ प्रदर्शनकारियों ने लालकिले की प्राचीर पर तिरंगे के बगल में ‘निशान साहिब’ का झंडा लगा दिया था. Deep Sidhu Delhi Police

माना जा रहा है कि इस समूह की अगुवाई दीप सिद्धू कर रहा था. हिंसा में नाम सामने आने के बाद सिद्धु ने दावा करते हुए कहा कि हमने विरोध जताने के लिए अपने लोकतांत्रिक अधिकार का प्रयोग करते हुए सांकेतिक तौर पर निशान साहिब का झंडा फहराया है. Deep Sidhu Delhi Police

दीप सिद्धु ने किसान नेताओं को दी थी धमकी  Deep Sidhu Delhi Police

हिंसा फैलाने के मामले में आरोपी ठहराए जाने पर नाराज पंजाबी कलाकार दीप सिद्धू ने फेसबुक पर लाइव होकर किसान नेताओं को धमकी देते हुए कहा कि अगर वह अंदर की बातें खोलनी शुरू कर दी तो इन नेताओं को भागने के लिए राह नहीं मिलेगी. Deep Sidhu Delhi Police

इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि इसे डायलॉग न समझा जाए. ये बात याद रखना, मेरे पास हर बात की दलील है. उन्होंने कहा कि गद्दार कहने वाले नेताओं को अपनी मानसिकता बदलनी होगी.

फेसबुक पर लाइव होकर चौरफा आरोपों से दीप सिद्धू ने कहा कि उनके बारे में बहुत सारी गलतफहमियां फैलाई जा रही है. इसीलिए मुझे लाइव आकर सफाई देनी पड़ रही है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

इंडिया जस्टिस रिपोर्ट में गुजरात भारत के टॉप 5 राज्यों से बाहर, कांग्रेस ने मांगा जवाब