Gujarat Exclusive > राजनीति > दिल्ली विधानसभा चुनाव: बीजेपी ने जारी किया घोषणा-पत्र, लुभावने वादों का खोला पिटारा

दिल्ली विधानसभा चुनाव: बीजेपी ने जारी किया घोषणा-पत्र, लुभावने वादों का खोला पिटारा

0
357

दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी अपना घोषणा-पत्र जारी कर दिया है. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, प्रकाश जावड़ेकर के साथ दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, पार्टी नेता विजय गोयल जैसे कई वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में जारी घोषणा पत्र में कई लुभावने वादे किये गए हैं. लेकिन संकल्प पत्र में वायु और जल प्रदूषण जैसे मुद्दों को प्राथमिकता दी गई है.

घोषणा-पत्र जारी करने के बाद गडकरी ने मुख्यमंत्री और AAP संयोजक अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, “दिल्ली में चीजें फ्री में देने से कुछ नहीं होगा.” बता दें कि चुनाव से चंद माह पहले केजरीवाल ने डीटीसी में महिलाओं को मुफ्त सफर की सौगात दी थी.

बीजेपी के संकल्प पत्र के लुभावने वादे

दिल्ली में भ्रष्टाचार मुक्त सरकार

नई अधिकृत कॉलोनी के लिए डेवलेपमेंट बोर्ड

व्यापारियों में एक साल में लीज़ होल्ड से फ्री होल्ड का काम पूरा

सीलिंग ना होने के लिए नियम और कानून में बदलाव

किराएदारों के हितों की रक्षा करना

जिनको गेंहू मिलती है उन्हें 2 रुपये किलो पिसा हुआ आटा

दिल्ली को टैंकर माफिया से मुक्त कराएंगे

हर घर नल से शुद्ध जल देने की योजना

दिल्ली में 200 नए स्कूल खोलना

दिल्ली में 10 नए बड़े कॉलेज खोलना

दिल्ली में आयुष्मान, पीएम आवास, किसान सम्मान निधि योजना लागू करना

समृद्ध दिल्ली इंफ्रास्ट्रचर योजना का ऐलान. 10 हजार करोड़ रुपये का खर्च

गरीब परिवार में बेटी के जन्म के वक्त अकाउंट खोलेंगे, 21 साल की होने पर 2 लाख रुपये

कॉलेज जाने वाली गरीब छात्राओं को इलेक्ट्रिक स्कूटी फ्री में देंगे.

9वीं क्लास में गए छात्रों को मुफ्त में साइकिल

गरीब विधवा महिला की बेटी की शादी के लिए 51 हजार रुपये

दो साल में दिल्ली से कूड़े के पहाड़ को समाप्त करेंगे.

10 लाख बेरोजगारों को रोजगार देंगे.

युवा-महिला-पिछड़ा के कल्याण के लिए अलग से बोर्ड.

रानी लक्ष्मीबाई महिला सुरक्षा योजना.

दिल्ली पुलिस के सहयोग से 10 लाख छात्राओं को सुरक्षा की ट्रेनिंग.

दिल्ली यमुना विकास बोर्ड का ऐलान.

यमुना रिवरफ्रंट, यमुना आरती शुरू होगी.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने संकल्प पत्र जारी करते हुए कहा कि दिल्ली की तकदीर को हम बदलने वाले हैं. दिल्ली में वायु-जल प्रदूषण सबसे बड़ी समस्या है, हमारी केंद्र सरकार ने दोनों ही दिशा में बड़े काम किए जा रहे हैं.