Gujarat Exclusive > देश-विदेश > ओमीक्रॉन को लेकर अलर्ट मोड में दिल्ली सरकार, समीक्षा बैठक में CM ने तैयारियों का लिया जायजा

ओमीक्रॉन को लेकर अलर्ट मोड में दिल्ली सरकार, समीक्षा बैठक में CM ने तैयारियों का लिया जायजा

0
169

नई दिल्ली: दुनिया भर में खलबली मचाने वाले कोरोना वायरस के नए वेरिएंट अमीक्रॉन को लेकर भारत सरकार भी अलर्ट मोड पर है. केंद्र सरकार ने सभी राज्यों को सतर्क रहने के लिए अलर्ट जारी किया है. कोरोना के नए वेरिएंट के खतरे को देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज समीक्षा बैठक की. बैठक के बाद सीएम ने तैयारियों का जायजा लिया.

समीक्षा बैठक के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि ओमीक्रॉन भारत में नहीं आएगा, लेकिन एक जिम्मेदार सरकार के नाते हमें तैयार रहना होगा. दिल्ली के अस्पतालों में 750 MT की ऑक्सीजन को स्टोर करने की क्षमता है. कोरोना की दूसरी लहर में हमारे पास ऑक्सीजन स्टोर करने की क्षमता नहीं थी. इससे निपटने के लिए हमने 442 MT स्टोरेज की क्षमता और बनाई है. दिल्ली में अब 121 MT ऑक्सीजन बनाई जा सकती है.

दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल ने कहा कि 32 किस्म की दवाईयां है जिसको अलग-अलग तरह से कोरोना के दौरान इस्तेमाल किया जाता है. इन सारी दवाईयों का 2 महीने का बफर स्टॉक ऑर्डर किया जा रहा है जिससे किसी भी तरह से दवाईयों की कमी न पड़ सके. हम हर नगर पालिका वार्ड में 100 ऑक्सीजन बेड्स को 2 हफ्ते के नोटिस में तैयार कर सकते हैं. दिल्ली में 270 वार्ड हैं तो इस तरह से हम 27,000 ऑक्सीजन बेड्स और तैयार कर सकते हैं। इन सबको मिलाकर हम 63,800 बेड्स तैयार कर सकते हैं.

समीक्षा बैठक के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि ओमीक्रॉन वेरिएंट को देखते हुए संबंधित अधिकारियों से मुलाकात कर तैयारियों का जायज़ा लिया. हमने करीब 30,000 आक्सीजन बेड्स तैयार कर लिए हैं जिसमें से लगभग 10,000 ICU बेड्स हैं. इसके अलावा 6,800 ICU बेड्स निर्माणाधीन हैं जो फ़रवरी तक तैयार हो जाएंगे.

कोरोना की वजह से लागू प्रतिबंधों को हटाने को लेकर दुविधा में गुजरात सरकार