Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > दिल्ली मेट्रो के लिए गाइडलाइन जारी, सुबह 7 से 11 और शाम को 4 से 8 मिलेगी सेवा

दिल्ली मेट्रो के लिए गाइडलाइन जारी, सुबह 7 से 11 और शाम को 4 से 8 मिलेगी सेवा

0
344

देश में अनलॉक-4 की शुरुआत हो चुकी है. इस बीच केंद्र सरकार की ओर से जारी अनलॉक-4 की गाइडलाइन में दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) को चलाने की इजाजत दी गई है. दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) 7 सितंबर से दौड़ेगी. आज केंद्रीय शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने मेट्रो सेवाएं शुरू करने को लेकर विस्तृत एसओपी और गाइडलाइन जारी की. साथ ही डीएमआरसी ने मेट्रो परिचालन का टाइम-टेबल जारी किया है.

दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) में यात्रा के दौरान आरोग्य सेतु ऐप के इस्तेमाल के लिए बढ़ावा दिया जाएगा. समय-समय पर पूरे स्टेशन को सैनिटाइज किया जाएगा. एसी में ताजी हवा के लिए व्यवस्था की जाएगी. यात्रियों से कम सामान के साथ यात्रा करने के लिए कहा जाएगा.

क्या होगा टाइम-टेबल

दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (DMRC) ने कहा कि हम केवल एक लाइन को फिलहाल खोलेंगे. सुबह 7 बजे से 11 AM तक मेट्रो सेवा चलेगी और उसके बाद शाम के 4 बजे से 8 बजे तक मेट्रो चलेगी.

यह भी पढ़ें: PUBG पर भारत में लगा प्रतिबंध, आईटी मंत्रालय ने 118 चीनी ऐप को किया बैन

केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने बताया कि ट्रेनों की फ्रीक्वेंसी को नियमित किया जाएगा.

कंटेनमेंट जोन में बंद रहेंगे स्टेशन

दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) को लेकर एसओपी के अनुसार कंटेनमेंट जोन में एंट्री और एग्जिट गेट बंद रहेंगे. थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही यात्री को मेट्रो से यात्रा की इजाजत दी जाएगी.

दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) की एसओपी के मुताबिक यात्रियों को फेस मास्क पहनना अनिवार्य होगा. थर्मल स्क्रीनिंग के बाद यात्रियों को यात्रा करने की अनुमति दी जाएगी. दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा.

मंत्रालय ने कहा कि श्रेणीबद्ध और कैलिब्रेटेड तरीके से मेट्रो रेल सेवाओं की शुरुआत की जाएगी. सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अगर नहीं होगा तो स्थिति की समीक्षा की जाएगी.

5 से 7 मिनट तक का स्टॉपेज

गाइडलाइनकेंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि स्टेशन पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को सही ढ़ंग से लागू कराने के लिए मेट्रो ट्रेन स्टेशन पर उचित समय तक रुकेगी. अब पांच से सात मिनट तक मेट्रो स्टेशन पर रुक सकती है. मेट्रो रेल निगम सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए फैसले लेने के लिए स्वतंत्र है.

उपराज्यपाल ने दी थी मंजूरी

इससे पहले सात सितंबर से राजधानी में दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) सेवा बहाल करने की केजरीवाल सरकार के प्रस्ताव को उपराज्यपाल अनिल बैजल ने मंजूरी दे दी.

करीब डेढ़ घंटे तक चलने वाली दिल्ली डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी की बैठक में यह फैसला लिया गया.

डीडीएमए की बुधवार को होने वाली इस बैठक में अनलॉक 4 के तहत जारी दिशा-निर्देशों के साथ मेट्रो रेल सेवा को एक बार फिर से शुरू करने का फैसला किया गया है.

इस बैठक में उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ ही साथ मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत सहति कई अधिकारी मौजूद रहे.

राजधानी दिल्ली में मेट्रो(Delhi Metro) सेवा को हरी झंडी मिलने के बाद परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि कोरोना काल में मेट्रो से यात्रा करने वाले यात्रियों की सुरक्षा को लेकर कई अहम कदम उठाए जाएंगे.

दिल्ली में बढ़े कोरोना के मामले

वहीं दिल्ली में कोरोना वायरस ने पिछले 58 दिनों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. दिल्ली में 4 जुलाई के बाद सबसे ज्यादा नए मामले सामने आए हैं.
राष्ट्रीय राजधानी में पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 2312 नए केस सामने आए हैं. दिल्ली में अब तक कुल 1,77,060 मामले सामने आ चुके हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक दिल्ली में 4 जुलाई को 2505 केस दर्ज किए गए थे. वहीं 5 जुलाई को 2244 कोरोना के मामले दर्ज किए गए थे.

फिलहाल, दिल्ली में कोरोना के एक्टिव के मामलों की संख्या 15 हजार को पार कर गई है. दिल्ली में अभी कुल 15,870 एक्टिव मामले हैं. 21 जुलाई के बाद पहली बार एक्टिव मामले 15000 के पार पहुंचे हैं.

दिल्ली में कोरोना संक्रमित मरीजों के ठीक होने की दर 88.51% है जबकि एक्टिव मामले 8.96% है. कोरोना वायरस की चपेट में आकर राष्ट्रीय राजधानी में मरने वालों की दर 2.52% है. वहीं पॉजिटिविटी रेट 9.55% है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें