Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दिल्ली के उपराज्यपाल ने मानी सीएम केजरीवाल की मांग, शादियों में बस 50 लोग होंगे इक्ट्ठा

दिल्ली के उपराज्यपाल ने मानी सीएम केजरीवाल की मांग, शादियों में बस 50 लोग होंगे इक्ट्ठा

0
344

 देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) में कोरोना संक्रमण अपनी तीसरी लहर से प्रकोप बरपा रहा है. ऐसे में सूबे के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सरकार ने कई नए कदम उठाते हुए शादियों में मेहमानों की संख्या घटाने का जो प्रस्ताव भेजा था, उसे उपराज्यपाल अनिल बैजल ने स्वीकार कर लिया है. अब शादियों में केवल 50 लोग ही इक्ट्ठा हो सकेंगे. पहले यह संख्या 200 लोगों की थी.

गौरतलब है कि दिल्ली (Delhi) के सीएम केजरीवाल ने बताया था कि उनकी सरकार शादियों में इकट्ठा होने वाले मेहमानों की संख्या को कम करने और कोविड हॉट-स्पॉट में बदल रहे बाजारों को बंद करवाने का प्रस्ताव रखा था, हालांकि, ट्रेडर्स बॉडी और बैंक्वेट हॉल असोसिएशन की तरफ से इसपर विरोध जताया गया था.

यह भी पढ़ें: यूपी में 23 नवंबर से खुलेंगे सभी विश्वविद्यालय और कॉलेज

फिलहाल एलजी की मंजूरी के साथ दिल्ली (Delhi) में शादी समारोहों में 50 लोगों को ही शामिल होने का आदेश लागू हो गया है लेकिन बाजारों को बंद किए जाने के मामलें अभी तक कोई फैसला नहीं आया है.

250 ICU बेड बढ़े

मालूम हो कि दिल्ली (Delhi) में कोरोना का कहर बढ़ता जा रहा है. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 10 टीमों का गठन किया है, जो राजधानी के 100 से अधिक प्राइवेट अस्पतालों का दौरा करेगी और आईसीयू बेड के साथ ही टेस्टिंग क्षमता का आकलन कर रही है. टीमों का दौरा जारी है. आपको बता दें कि दिल्ली (Delhi) में आईसीयू बेड की कमी है. गृह मंत्रालय जल्द ही 750 आईसीयू बेड मुहैया कराने वाली है. फिलहाल 250 आईसीयू बेड बढ़ा दिए गए हैं.

दिल्ली में कोरोना की स्थिति

वहीं दिल्ली (Delhi) में कोरोना के नए मामलों की बात करें तो बीते 24 घंटों में राजधानी में 6396 नए केस दर्ज किए गए हैं, जबकि 99 लोगों ने जान गंवाई है. नए मामलों के साथ ही एक्टिव केस की कुल संख्या 42 हजार तक पहुंच गई है. राजधानी (Delhi) में कोरोना बढ़ते मामलों को देखते हुए यूपी के नोएडा में भी सतर्कता बरती जा रही है. नोएडा प्रशासन ने संक्रमण पर रोक लगाने के लिए बॉर्डर पर रैंडम टेस्टिंग का फैसला किया है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें