Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दिल्ली दंगे की चार्जशीट में शरजील इमाम और उमर खालिद के नाम नहीं

दिल्ली दंगे की चार्जशीट में शरजील इमाम और उमर खालिद के नाम नहीं

0
664

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने आज बुधवार को दिल्ली दंगे (Delhi Riots) मामले में कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी. 17 हजार से ज्यादा पन्नों की चार्जशीट में स्पेशल सेल ने आरोपी ताहिर हुसैन समेत 15 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है. हालांकि इस चार्जशीट में उमर खालिद और शरजील इमाम का नाम शामिल नहीं है.

दिल्ली हिंसा (Delhi Riots) के संबंध में तैयार की गई 17 हजार पन्ने से अधिक की चार्जशीट में 15 आरोपियों के नाम हैं, जिनपर दंगे भड़काने का आरोप हैं. इन सभी आरोपियों के नाम चार्जशीट में गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम, आईपीसी और शस्त्र अधिनियम के तहत दर्ज किया गया है.

पुलिस ने कोर्ट चार्जशीट दायर करते हुए कहा कि फरवरी में नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हुए दंगों के ये आरोपी दंगाईयों के सीधे संपर्क में थे. पुलिस ने सलीमपुर और जाफराबाद में हुए दंगों में इस्तेमाल दो व्हाट्सएप ग्रुप्स का भी जिक्र किया.

17,500 पन्नों की चार्जशीट

यह चार्जशीट कुल 17,500 पन्नों की है. पुलिस ने कोर्ट को बताया कि दिल्ली हिंसा (Delhi Riots) के मामले में उसने कुल 747 लोगों को गवाह बनाया है.

स्पेशल सेल ने कोर्ट से कहा कि हमने नार्थ ईस्ट हिंसा (Delhi Riots) की सारी एफआईआर का अध्ययन किया है. हम मामले में आगे पूरक चार्जशीट दायर करेंगे जिसमें (उमर खालिद और शरजील इमाम) कुछ अन्य नाम शामिल किए जाएंगे.

यह भी पढ़ें: पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने दी कोरोना को मात, मिली अस्पताल से छुट्टी

पुलिस ने कोर्ट को बताया कि दिल्ली हिंसा (Delhi Riots) के मामले में उसने कुल 747 लोगों को गवाह बनाया है. 2,692 पन्ने चार्जशीट का ऑपरेटिव पार्ट है, जबकि 17 हजार 500 के करीब पूरी चार्जशीट है.

चार्जशीट में किन 15 लोगों का नाम

स्पेशल सेल ने आरोपी ताहिर हुसैन समेत 15 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी. आरोपी ताहिर हुसैन के अलावा मुहम्मद परवेज अहमद, मुहम्मद इल्यास, सैफी खालिद, इशरत जहां, मिरांन हैदर, सफूरा जारगर, सफा उर रहमान, आसिफ इकबाल तन्हा, शादाब अहमद, नताशा नरवाल, देवांगना कलिता, तस्लीम अहमद, सलीम मल्लिक, अथर खान के खिलाफ स्पेशल सेल की एसआईटी UAPA के तहत चार्जशीट दायर की.

मालूम हो कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में संशेाधित नागिरकता कानून के समर्थकों और विरोधियों के बीच हिंसा होने के बाद 24 फरवरी को सांप्रदायिक दंगा फैल गया जिसमें 53 लोग मारे गये और करीब 200 लोग घायल हुए.

बाद में डलेगा उमर और इमाम का नाम

दिल्ली दंगों (Delhi Riots) के मामले में दाखिल चार्जशीट में उमर खालिद और शरजील इमाम का आरोपी के तौर पर नाम नहीं है. चूंकि कुछ दिन पहले उन्हें गिरफ्तार किया गया था, इसलिए उनका नाम सप्लीमेंट्री चार्जशीट में होगा.

दिल्ली हिंसा (Delhi Riots) के मामले में जिन लोगों को हाल में गिरफ्तार किया गया है उनका नाम बाद में शामिल किया जाएगा.

मालूम हो कि दिल्ली में इसी साल फ़रवरी में हुए दंगों (Delhi Riots) के मामले में गिरफ़्तार किये गए जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र उमर ख़ालिद को दस दिनों के पुलिस रिमांड पर भेजा गया है. सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए ख़ालिद की पेशी हुई थी, जिसके बाद उन्हें रिमांड पर भेज दिया गया. इस मामले में दिल्ली पुलिस ने दस दिनों के रिमांड की मांग की थी.

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों (Delhi Riots) के मामले में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र नेता और संस्था ‘यूनाइटेड अगेंस्ट हेट’ के सह-संस्थापक उमर ख़ालिद को रविवार रात दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ़्तार किया था.

वहीं 33 वर्षीय उमर ख़ालिद के पिता का मानना है कि ‘उनके बेटे को इस केस में फँसाया जा रहा है.’

वहीं कलाकारों, इतिहासकारों, शिक्षकों और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने एक बयान जारी कर उमर ख़ालिद की गिरफ़्तारी की निंदा की है और उनके फ़ौरन रिहाई की मांग की है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें