Gujarat Exclusive > राजनीती > दिल्ली हिंसा: अरविंद केजरीवाल ने किया मुआवजे का ऐलान, घायलों का होगा मुफ्त इलाज

दिल्ली हिंसा: अरविंद केजरीवाल ने किया मुआवजे का ऐलान, घायलों का होगा मुफ्त इलाज

0
107

दिल्ली में दंगे की आग भले ही धीरे-धीरे शांत हो रही है. लेकिन इस आग में बहुत सी जिंदगी पटरियों से उतर गई है. आम लोगों की जिंदगी को पटरी पर वापस लाने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कई बड़ी राहत की घोषणाएं की हैं. इसमें सबसे बड़ी घोषणाएं लोगों के मुफ्त इलाज की है. इसके साथ ही अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अगर दंगे भड़काने में आम आदमी पार्टी का कोई कार्यकर्ता रहा है तो उसे सख्त से सख्त सजा दी जाए.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऐलान किया है कि दंगे से प्रभावित लोगों को फरिश्ते योजना की तर्ज पर मुफ्त इलाज दिया जाएगा. चाहे पर प्राइवेट अस्पताल में ही क्यों न हो. इसका पूरा खर्च दिल्ली सरकार उठाएगी. फरिश्ते योजना में सड़क हादसे में घायल लोगों का दिल्ली के अस्पतालों में मुफ्त इलाज होता है. आगे केजरीवाल ने बताया कि दंगे प्रभावित इलाकों में लोग घरों से नहीं निकल पा रहे हैं. इस कारण से अब सरकार वहां खाना पहुंचाने का काम करेगी. इसमें स्थानीय पार्षद, विधायक, एनजीओ और समाजसेवियों की मदद ली जाएगी.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऐलान किया कि दंगे में जिन लोगों की मौत हो गई है उनके परिवार के लोगों को 10-10 लाख का मुआवजा दिया जाएगा. जिसमें एक लाख रुपये तत्काल और 9 लाख रुपये डॉक्यूमेंट वेरीफिकेशन के बाद होगा. माइनर के मौत के मामले में 5 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. गंभीर रूप से घायलों को 2 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. माइनर इंजरी पर 20 हजार रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. अगर इस दंगे के कारण कोई अनाथ हो गया हो तो उसे 3 लाख का मुआवजा दिया जाएगा. जानवरों के मारे जाने पर 5 हजार रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. अगर रिक्शा जल गया है तो 25 हजार रुपये का मुआवजा दिया जाएगा.

अगर किसी का ई-रिक्शा जल गया है तो उसे 50 हजार रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. जिनका घर पूरी तरह जल गया है उन्हें 5 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. इसमें अगर कोई किराएदार था तो 1 लाख रुपये उसके नुकसान के लिए और 4 लाख रुपये मकान मालिक को दिया जाएगा. अगर घर पूरी तरह नहीं जला है लेकिन उसे डैमेज किया गया है ऐसी स्थिति में 2.5 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. जिनके घर पूरी तरह जल गए हैं उन्हें तुरंत 25 हजार रुपये दिए जाएंगे.

अरविंद केजरीवाल ने दुकान जलने पर 5 लाख रुपये का मुआवजा देने की बात कही है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जिन लोगों के सारे कागज इन दंगों में जल गए हैं उसे वापस बनाने के लिए राजस्व विभाग कैंप लगाएगा. ताकि लोगों के सभी कागज तुरंत बन सके. मोहल्ले के स्तर पर हर जगह पीस कमेटी बनाई जा रही हैं. इसके साथ ही इंश्योरेंस कंपनियों को कहा जा रहा है कि कैंप लगा कर सभी इंश्योरेंस क्लेम जल्द से जल्द करें. दिल्ली फायनांस कॉर्पोरेशन को कहा जा रहा है कि जिनकी दुकानें जल गई हैं उन्हें सस्ती दरों पर ऋण मुहैया कराया जाए.