Gujarat Exclusive > राजनीती > दिल्ली हिंसा: हेड कांस्टेबल रतनलाल को शहीद का दर्जा देगी केंद्र सरकार, BJP सांसद ने किया ऐलान

दिल्ली हिंसा: हेड कांस्टेबल रतनलाल को शहीद का दर्जा देगी केंद्र सरकार, BJP सांसद ने किया ऐलान

0
99

दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर भड़की हिंसा में सोमवार को हेड कांस्टेबल रतन लाल की मौत हो गई थी. दिल्ली पुलिस रतन लाल का शव लेकर उनके पैतृक गांव पहुंची है. रतन लाल राजस्थान के सिकर के सदिनसर के रहने वाले थे. दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतनलाल का परिवार धरने पर बैठ गया था. परिवारवालों की मांग है कि रतनलाल को शहीद का दर्जा दिया जाए. परिवार का कहना है कि जब तक उन्हें शहीद का दर्जा नहीं मिलेगा, उनका अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा. इसके बाद सीकर के सांसद सुमेधानंद महाराज ने उन्हें शहीद का दर्जा देने का ऐलान किया

सीकर सांसद सुमेधानंद झुंझुनू सांसद नरेंद्र कुमार सीकर अतिरिक्त जिला कलेक्टर वशीकरण पुलिस अधीक्षक सहित फतेहपुर विधानसभा के पूर्व विधायक नंदकिशोर महरिया सहित कई प्रतिनिधि भी वहां पर मौजूद रहे और प्रदर्शनकारियों से और सरकार के बीच वार्ता का काम करते रहे. आखिरकार प्रदर्शनकारियों की मेहनत रंग लाई और केंद्र सरकार ने शहीद रतन लाल को शहीद की घोषणा के साथ-साथ शहीद के मिलने वाले पैकेज की भी घोषणा की.

सांसद सुमेधानंद महाराज ने मीडिया और प्रदर्शनकारियों के सामने सीकर सांसद सुमेधानंद महाराज जी ने घोषणा करते हुए बताया कि शहीद रतन लाल के परिवार में से एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी और वह एक करोड़ रूपए का पैकेज और अन्य सभी सारी सुविधाएं जो एक शहीद को मिलती है वह केंद्र सरकार ने लिखित में हमें भेज दिया. इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने सड़क पर से जाम हटाया.