Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दिल्ली हिंसा में नाम सामने आने पर भड़के येचुरी, कहा-जहरीले भाषण देने वालों पर कब होगी कार्रवाई?

दिल्ली हिंसा में नाम सामने आने पर भड़के येचुरी, कहा-जहरीले भाषण देने वालों पर कब होगी कार्रवाई?

0
461
  • दिल्ली पुलिस ने दिल्ली हिंसा का सह साजिशकर्ताओं में कई दिग्गजों का नाम किया शामिल
  • हिंसा में नाम शामिल होने के बाद माकपा महासचिव सीताराम येचुरी भड़के
  • केंद्र-गृह मंत्रालय के साथ ही साथ दिल्ली पुलिस पर लगाया गंभीर आरोप

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ होने वाले विरोध प्रदर्शन के दौरान दिल्ली के कई इलाकों में सांप्रदायिक हिंसा भड़क गई थी. आप के पूर्व पार्षद को इस हिंसा का मास्टरमाइंड माना जा रहा है.

लेकिन दिल्ली पुलिस ने दिल्ली हिंसा में पूरक आरोप पत्र दाखिल कर माकपा महासचिव सीताराम येचुरी, स्वराज अभियान के नेता योगेंद्र यादव, अर्थशास्त्री जयति घोष, दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और सामाजिक कार्यकर्ता अपूर्वानंद के साथ ही साथ डॉक्यूमेंट्री फिल्मकार राहुल रॉय को दंगों का सह-साजिशकर्ता बताया है.

नाम शामिल होने पर भड़के येचुरी 

दिल्ली हिंसा में पुलिस द्वारा सह-सजिशकर्ताओं के लिस्ट में नाम शामिल होने के बाद सीताराम येचुरी ने एक नहीं बल्कि कई ट्वीट कर केंद्र की मोदी सरकार गृह मंत्रालय और दिल्ली पुलिस पर गंभीर आरोप लगए हैं.

नाम सामने आने पर उन्होंने पहला ट्वीट करते हुए लिखा-“56 लोग दिल्ली की हिंसा में मारे गए. ज़हरीले भाषणों का video है, उन पर कार्यवाई क्यों नहीं हो रही है?

क्योंकि सरकार ने आदेश दिया है कि विपक्ष को लपेटा जाए, किसी भी तरह से. यही है मोदी और BJP का असली चेहरा, चरित्र, चाल और चिंतन. विरोध तो होगा इसका.”

 

उसके बाद उन्होंने एक अन्य ट्वीट कर लिखा “यह मोदी सरकार न सिर्फ़ संसद में सवालों से डरती है, यह प्रेस कॉन्फ़्रेन्स करने से घबराती है और RTI का जवाब देने से वो मोदी का निजी Fund हो या अपनी degree दिखाने की बात. इस सरकार की सभी असंवैधानिक नीतियों और असंवैधानिक क़दमों का विरोध जारी रहेगा”

यह भी पढ़ें: गृह मंत्री अमित शाह की एक बार फिर बिगड़ी तबीयत, AIIMS में भर्ती

एक अन्य ट्वीट कर उन्होंने लिखा-“हमारा संविधान हमें न सिर्फ़ CAA जैसे हर प्रकार के भेद भाव वाले क़ानूनों के विरुद्ध शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने का अधिकार देता है.

बल्कि यह हमारी ज़िम्मेदारी भी है. हम विपक्ष का काम जारी रखेंगे. BJP सरकार अपनी हरकतों से बाज़ आए. Emergency को हमने हराया था. इस आपातकाल से भी निपटेंगे.”

गौरतलब है कि अक्सर दिल्ली पुलिस पर केंद्र के इशारे पर काम करने का आरोप लगता आ रहा है. दिल्ली हिंसा में नाम सामने आने के बाद यचुरी ने भी इस मामले को लेकर दिल्ली पुलिस पर हमला बोलते हुए ट्वीट कर लिखा-

” दिल्ली पुलिस भाजपा की केंद्र सरकार और गृह मंत्रालय के नीचे काम करती है. उसकी ये अवैध और ग़ैर-क़ानूनी हरकतें भाजपा के शीर्ष राजनीतिक नेत्रत्व के चरित्र को दर्शाती हैं.

वो विपक्ष के सवालों और शांतिपूर्ण प्रदर्शन से डरते हैं, और सत्ता का दुरुपयोग कर हमें रोकना चाहते हैं.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

कोरोना अपडेट: बीते 24 घंटों में 94 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले दर्ज, 1114 की मौत