Gujarat Exclusive > राजनीति > फेसबुक विवाद: शशि थरूर को आईटी मामलों की संसदीय समिति से हटाने की मांग

फेसबुक विवाद: शशि थरूर को आईटी मामलों की संसदीय समिति से हटाने की मांग

0
975

फेसबुक विवाद की गहमा-गहमी के बीच कांग्रेस सांसद शशि थरूर को आईटी मामलों की संसदीय स्थायी समिति के प्रमुख के पद से हटाने की मांग उठ रही है.
भाजपा ने शशि थरूर को आईटी पर संसद की स्थायी समिति के प्रमुख पद से हटाए जाने की मांग की है.

दरअसल फ़ेसबुक पर भाजपा के नेताओं के नफ़रत वाले कथित बयानों को लेकर थरूर से अपत्ति जताई.
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को घेरने के बाद अब भाजपा के निशाने पर थरूर हैं.

लोकसभा स्पीकर को लिखा पत्र

कमेटी के सदस्य और बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने लोकसभा स्पीकर ओम बिरला को पत्र लिखा है.
उन्होंने थरूर पर संसदीय नियम-कायदों के उल्लंघन का आरोप लगाया है.

यह भी पढ़ें : कोरोना काल में मिसाल बनीं योगिता की निर्मम हत्या, सिरफिरे डॉक्टर ने कबूला जुर्म

निशिकांत दुबे ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया, “मैंने लोकसभा स्पीकर से अनुरोध किया है कि वो शशि थरूर से कहें कि वो आईटी पर स्थायी समिति की बैठक न बुलाएँ.
साथ ही मैंने उन्हें इस समिति के अध्यक्ष पद से हटाए जाने की भी मांग की है.”

दुबे ने आरोप लगाया कि थरूर चेयरमैन के दायित्व निभाने में फेल साबित हुए हैं.
बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने लोकसभा स्पीकर ओम बिरला को लिखे पत्र में कहा है कि आईटी मामलों की संसद की स्थाई समिति के प्रमुख की हैसियत से शशि थरूर ने राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं के चक्कर में पहली बार विवाद नहीं खड़ा किया है.

उन्होंने कहा कि वह संसदीय संस्थाओं का दुरुपयोग कर मेरी पार्टी(बीजेपी) को निशाना बनाते हैं.
जब से शशि थरूर कमेटी के चेयरमैन बने हैं, वह अनप्रोफेशनल तरीके से संचालन कर रहे हैं.

राज्यवर्धन सिंह ने भी लगाए आरोप

वहीं केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने भी पत्र लिखकर थरूर पर नियमों की अवहेलना करने का आरोप लगाए हैं.

दरअसल, एक अखबार की रिपोर्ट में फेसबुक पर बीजेपी को लेकर नरम रुख अपनाने की बात कही गई थी.
इस पर थरूर ने स्टैंडिंग कमेटी ऑन आईटी की ओर से इस मसले पर सफाई मांगने की बात कही थी.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें