Gujarat Exclusive > राजनीति > भाजपा ने महाराष्ट्र में लोकतंत्र को पैसे के बल पर खरीदकर नई सरकार बना दी: दिग्विजय सिंह

भाजपा ने महाराष्ट्र में लोकतंत्र को पैसे के बल पर खरीदकर नई सरकार बना दी: दिग्विजय सिंह

0
222

अक्सर अपने बयानों की वजह से सुर्खियों में बने रहने वाले कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं. पूणे पहुंचे दिग्विजय सिंह ने कहा कि देश के सांप्रदायिक सद्भाव के माहौल को नफरत के माध्यम से बिगाड़ा जा रहा है. केंद्रीय जांच एजेंसियों का दुरपयोग कर लोगों को डराने की कोशिश की जा रही है.

दिग्विजय सिंह ने पूणे में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि देश में भाजपा का लोकतंत्र, संविधान और तिरंगे पर जो गुप्त विचार रहे हैं वो अब उजागर कर रहे हैं. लोकतंत्र को खरीदा जा रहा है. महाराष्ट्र में जो हुआ वो नया नहीं है. 2017 से आज तक चुने हुए लोकतंत्र को पैसे के बल पर खरीदा गया और सरकार बनाई गई.

भाजपा और केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने आगे कहा कि ED, IT और CBI का भय दिखाकर लोगों को डराया जा रहा है. जो नहीं डरे उनको करोड़ों का लोभ दिया गया. भाजपा का लोकतंत्र और संविधान में वैसे भी ज्यादा विश्वास नहीं रहा है. ये शपथ लेते समय निष्पक्षता से सरकार चलाने की शपथ लेते हैं लेकिन पूरे तरीके से पक्षपात किया जाता है.

दिग्विजय सिंह के मुताबिक दलबदल कानून की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं, बहुमत खरीदा जा रहा है. बिना नियम के बूलडोजर चलाए जा रहे हैं. एक व्यक्ति अगर अपराधी है तो कौन से क़ानून में लिखा है कि पूरे परिवार को उसका दंड दें. देश के सांप्रदायिक सद्भाव के माहौल को नफरत के माध्यम से बिगाड़ा जा रहा है.

देश में बीते 24 घंटों में 16 हजार से ज्यादा कोरोना के नए केस दर्ज, 26 की गई जान