Gujarat Exclusive > देश-विदेश > वारिस पठान का विवादित बयान, बोले कम हैं मगर भारी पड़ेंगे

वारिस पठान का विवादित बयान, बोले कम हैं मगर भारी पड़ेंगे

0
555

ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिम (AIMIM) नेता भड़काऊ भाषणों के लिए जाने जाते हैं, ऐसे में पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और पूर्व विधायक वारिस पठान भी अब अकबरुद्दीन ओवैसी के नक्शेकदम पर चलते हुए नजर आ रहे हैं. गुलबर्गा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने हिन्दुओं को सीधे चेतावनी दे डाली है.

एआईएमआईएम चीफ असादुद्दीन ओवैसी के छोटे भाई अकबरुद्दीन ओवैसी का विवादित बयान था कि 15 मिनट के लिए पुलिस हटा दो फिर देखते हैं किसमें है कितना दम, अब वारिस महाशय ऐसी जहरीली बयानबाजी कर अकबर से भी आगे निकलते हुए नजर आ रहे हैं.

गुलबर्गा में जनसभा को संबोधित करने के दौरान वारिस पठान धीरे धीरे विषैले होते गए और हिंदू-मुस्लिम एकता को चिंगारी देने के अलावा उन्होंने कोई काम नहीं किया. वह बोले याद रखना, 15 करोड़ मुसलमान 100 हिन्दुओं पर भरी पड़ेंगे. शाहीन बाग में गोली चलाने वाले के बारे में बात करते हुए उन्हें यह जोश आ पड़ा लेकिन गुस्से को जो उन्होंने शब्द दी, यह देश के लिए वाकई विष है.

 

उन्होंने कहा कि अगर उनके पास अल्फाज है तो हमारे पास भी वो जुबान है जो उन्हें मुंह तोड़ जवाब दे सकती है, वो हमारी जुबान की आतिशबाजी का मुकाबला नहीं कर सकते हैं. हमने ईंट का जवाब पत्थर से देना सीख लिया है, मगर अब इक्ट्ठा होकर चलना होगा.

पठान ने कहा कि आजादी लेनी पड़ेगी और जो चीज मांगने से नहीं मिलती उसको छीन कर लेना होगा. अब वक्त आ गया है हमको बोला जाता है कि मां-बहनों को आगे भेज दिया है. अभी तो हमारी शेरनियां बाहर निकली है तो पसीने छूट गए अगर हम साथ में आ गए तो सोच लो क्या होगा. पठान का विवादित बयान सामने आने के बाद चारो तरफ उनके इस बयान की आलोचना हो रही है.