Gujarat Exclusive > हमारी जरूरतें > कोरोना काल में त्योहार! स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- केरल ने लापरवाही से चुकाई बड़ी कीमत

कोरोना काल में त्योहार! स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- केरल ने लापरवाही से चुकाई बड़ी कीमत

0
193

भारत में कोरोना काल के बीच त्योहारों का मौसम आ रहा है. तमाम पाबंदियों के बावजूद लोग त्योहारों को लेकर उत्सुक हैं लेकिन स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने आने वाले समय को लेकर लोगों को आगाह किया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने रविवार को अपने साप्ताहिक कार्यक्रम संडे संवाद में नवरात्रि को सावधानी से मनाए जाने की अपील की.

हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने देश के लोगों से कोरोना वायरस के संकट के बीच सावधानी से नवरात्रि मनाने की अपील की है. हर्षवर्धन ने कहा कि दुनिया में इस महामारी के कारण काफी परेशानियां आ रही है. ऐसे में लोगों को सादगी से इस पर्व को मनाना चाहिए. इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्री ने स्वीकार किया कि देश में कोरोना संक्रमण कम्युनिटी ट्रांसमिशन के चरण में पहुंच गया है.

केरल से सीख लेने की दी सलाह

डॉ हर्षवर्धन (Dr Harsh Vardhan) ने हाल ही में केरल में कोविड-19 के मामलों में आए उछाल को लेकर अपने विचार साझा किए. उन्होंने कहा कि 30 जनवरी से 3 मई के बीच केरल से कोविड-19 के केवल 499 मामलों का पता चला था और 2 मौतें हुई थीं.

यह भी पढ़ें: मोरबी उपचुनाव: कांग्रेस का एक और बड़ा विकेट गिरा, नगरपालिका अध्यक्ष सहित 8 नेता भाजपा से जुड़े

उन्होंने खेद व्यक्त करते हुए कहा कि केरल हाल ही में ओणम त्योहार के दौरान हुई घोर लापरवाही की कीमत भुगत रहा है, जब राज्य में अनलॉक अवधि के दौरान गतिविधियों जैसे कि व्यापार और पर्यटन के लिए अंतर्राज्यीय यात्रा को शुरू किया जा रहा था, तब राज्य के विभिन्न जिलों में कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी हुई. केरल की कोविड-19 के बारे में तस्वीर पूरी तरह बदल गई और दैनिक मामले दोगुना हो गए.

कोरोना में परिवर्तन से इनकार

स्वास्थ्य मंत्री (Dr Harsh Vardhan) ने भरोसा दिलाया कि अभी भारत में कोरोना वायरस में किसी परिवर्तन का पता नहीं चला है, जो कि अधिक प्रसार कुशलता का द्योतक है या रोगजनक है. एक प्रश्न का उत्तर देते हुए केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने पहले ही दूसरे चरण के अंतर्गत 33 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों को कोविड पैकेज जारी कर दिया है. दूसरे पैकेज में जारी पैकेज की कुल राशि 1352 करोड़ रुपये है. दूसरे चरण के अंतर्गत अगस्त, सितंबर और अक्तूबर, 2020 के महीनों के दौरान किस्तों में राशि जारी की गई है.

 

ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं

केन्द्रीय मंत्री (Dr Harsh Vardhan) ने भरोसा दिलाया कि देश में मेडिकल ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है, भारत में वर्तमान में लगभग 6400 मीट्रिक टन प्रतिदिन उत्पादन हो रहा है, सरकार महामारी के कारण इसकी बढ़ती मांग को देखते हुए उत्पादन क्षमता को बढ़ाने के लिए तैयार है. गृह मंत्रालय द्वारा गठित अधिकार प्राप्त समूह देश भर में मेडिकल ऑक्सीजन की आवश्यकता पर भी नजर रखे हुए है.

भारत में कोरोना की स्थिति

उधर भारत में कोरोना वायरस के नए मामलों में कमी दर्ज की जा रही है लेकिन यूरोप के कुछ देशों में कोरोना की दूसरी लहर देखने को मिल रही है. ऐसे में अब देश में कोरोना को लेकर ज्यादा चौकन्ना रहने की जरूरत है. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटों में 61,871 नए कोरोना मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि 72,614 मरीज ठीक हुए. हालांकि इस दौरान 1033 मरीजों की मौत हो गई.

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना (India Covid-19 Update) संक्रमितों की कुल संख्या 74 लाख 94 हजार के पार पहुंच गई है. इनमें से एक लाख 14 हजार मरीजों की मौत हो चुकी है.

देश में अब कुल संक्रमितों की संख्या 74 लाख 94 हजार, 551 हो गई है. इनमें 7 लाख 83 हजार 311 ही एक्टिव मरीज हैं. अब तक कुल 65 लाख 97 हजार 209 लोग इस महामारी को मात दे चुके हैं और स्वस्थ हो चुके हैं. देश में अब तक कोविड-19 से 1 लाख 14 हजार 31 लोगों की मौत हो चुकी है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें