Gujarat Exclusive > राजनीति > केरल विधानसभा बजट सत्र के दौरान, राज्यपाल ने असहमति के बावजूद पढ़ा CAA विरोधी वाक्य

केरल विधानसभा बजट सत्र के दौरान, राज्यपाल ने असहमति के बावजूद पढ़ा CAA विरोधी वाक्य

0
305

केरल गवर्नर आरिफ मोहम्मद खान ने विधानसभा में बजट सत्र के शुरुआत के दौरान अपना अभिभाषण पढ़ते वक्त कथित तौर पर नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ बोलने से पहले सफाई पेश की. उन्होंने कहा, ”मैं यह पैराग्राफ (CAA के खिलाफ) पढ़ने जा रहा हूं, क्योंकि मुख्यमंत्री चाहते हैं मैं इसे पढ़ूं, हालांकि मेरा मानना है कि यह नीति या कार्यक्रम के तहत नहीं है. सीएम ने कहा है कि यह सरकार का दृष्टिकोण है, और उनकी इच्छा का सम्मान करने के लिए मैं इस पैरा को पढ़ने जा रहा हूं.”

बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में प्रस्ताव लाने के बाद केरल में विवाद बढ़ता ही जा रहा है. केरल विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत करने के लिए राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान सदन में अभिभाषण देने पहुंचे थे. केरल में विपक्षी दल यूडीएफ के विधायकों ने राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान को विधानसभा में उस समय ‘वापस जाओ’ और ‘सीएए रद्द करो’ के बैनर दिखाए जब वह अपने नीति संबोधन के लिए आसन की ओर बढ़ रहे थे.

विधानसभा में यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट के विधायकों ने राज्यपाल के विरोध में जमकर नारेबाजी की राज्यपाल के सदन में पहुंचते ही विधायकों ने नारेबाजी करना शुरु कर दी. कुछ विधायकों ने उनके सदन में आने का रास्ता रोका. इसके बाद विधानसभा के मार्शलों ने राज्यपाल के लिए रास्ता बनाया और उन्हें उनकी सीट तक ले गए. जब राज्यपाल ने अपना अभिभाषण शुरू किया तो UDF के विधायकों ने सदन से वाकआउट कर दिया.

गौरतलब है कि नागरिकता कानून के खिलाफ विधानसभा में प्रस्ताव लाने वाला केरल पहला राज्य है. इस कानून के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने वाली पहली सरकार भी केरल सरकार ही थी. इन दोनों मुद्दों पर सरकार का राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान और मुख्यमंत्री आमने-सामने आ गए थे.