Gujarat Exclusive > गुजरात > वडोदरा में तालाबंदी के दौरान BJP पार्षद पर पुलिस ने बरसाई लाठी, सफाई का जायजा लेना पड़ा महंगा

वडोदरा में तालाबंदी के दौरान BJP पार्षद पर पुलिस ने बरसाई लाठी, सफाई का जायजा लेना पड़ा महंगा

0
1271

वडोदरा: पूरे देश में कोरोना के बढ़ते आतंक को लेकर तालाबंदी है. इस बीच लाताबंदी को कामयाब बनाने के लिए गुजरात सरकार ने पुलिस को खुली छूट दे दी है. जिसकी वजह से पुलिस अब आम लोगों के साथ ही साथ खास लोगों को भी अपना निशाना बना रही है. वडोदरा में लॉकडाउन में घूमता देख पुलिस वालों ने नगर पार्षद पर लाठी बरसा दी वह भी उस वक्त जब वह अपने इलाके की सफाई का जायजा लेने जा रहे थे.

मिल रही जानकारी के अनुसार वडोदरा पालिका के भाजपा के नगर पार्षद अरविंद प्रजापति छाणी कैनाल रोड़ पर सफाई का निरीक्षण करने निकले थे. वे छाणी कैनाल रोड़ के पास खोड़ियार नगर पहुंचे जहां पुलिस का काफिला था, उनमें से एक सब इंस्पेक्टर ने दुपहिया पर निकले पार्षद को रोका. पार्षद ने अपना पहचान पत्र दिखाकर कहा कि वह सफाई के निरीक्षण के लिए निकले हैं. परन्तु सबइंस्पेक्टर ने उनकी एक न सुनी, उन्होंने पुलिस अफसरों के साथ पुलिस इंस्पेक्टर से बात भी करवाई लेकिन कुछ भी काम ना आया.

मौके पर उपस्थित सब इंस्पेक्टर ने पार्षद के साथ दुर्व्यवहार किया जिसके बाद वह जैसे ही अपना दुपहिया चालू किया तो उसने पीछे से डंडा भी मारा. इसका वीडियो भी वायरल हो चुका है. घटना भाजपा के पार्षद ने स्वीकार किया है कि पुलिस ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया था. जिसके बाद उन्होंने भाजपा आलाकमान घटना से अवगत करवा दिया गया है.

तालाबंदी के दौरान अहमदाबाद में पुलिस की गुंडागर्दी, खाकी की खौफ में सब्जी बेचने वाले लोग