Gujarat Exclusive > देश-विदेश > भूकंप के तेज झटकों से हिला मिजोरम, सड़कों और घरों में पड़ीं दरारें

भूकंप के तेज झटकों से हिला मिजोरम, सड़कों और घरों में पड़ीं दरारें

0
1038

पूर्वोत्तर भारत के कई हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं. सोमवार सुबह भी मिजोरम में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए. मिजोरम में भूकंप चंपई से 27 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में आया, जिसकी तीव्रता रिक्‍टर स्‍कैल पर 5.5 बताई जा रही है. पिछले 12 घंटे में दूसरी बार मिजोरम में भूकंप के झटके आए हैं. हालांकि जान-माल की क्षति की अभी कोई खबर नहीं है.

नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, भूकंप सुबह 4 बजकर 10 मिनट पर महसूस किया गया. धरती के हिलने से लोग नींद से जागे और घरों से बाहर निकल आए. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जोरामथंगा से भूकंप के बाद की स्थिति जानने के लिए फोन पर बातचीत की है. इस दौरान पीएम मोदी ने केंद्र से हरसंभव सहयोग का आश्वासन दिया है.

मिज़ोरम के मुख्यमंत्री जोरमथांगा सोशल मीडिया के माध्‍यम से भूकंप के बाद की स्थिति से लोगों को अवगत कराते हुए कहा, ‘मिज़ोरम में 12 घंटे के अंदर दो भूकंप आए. नुकसान का आकलन संबंधित विधायक और ज़िला प्रशासन ने किया है. सौभाग्य से, अब तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. सहयोग का आश्वासन देने के लिए मैं प्रधानमंत्री और गृह मंत्री को धन्यवाद करता हूं.

भूकंप सुबह 4.10 बजे हुआ था और भूकंप का केंद्र भारत-म्यांमार सीमा पर चम्पई जिले के जोकवथर में था. भूकंप की गहराई 20 किमी थी उन्होंने कहा कि राज्य की राजधानी आइजोल सहित कई जगह झटके महसूस किए गए. चंबाई जिले के ख्वाबुंगा के ज़ोखावतार में एक चर्च सहित कई मकान और इमारतें आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गई हैं. मालूम हो कि रविवार को भी 5.1 तीव्रता का भूकंप मिजोरम में लगभग 4.10 बजे आया था. इससे पहले 18 जून को 4.6 तीव्रता का एक और भूकंप आया था.