Gujarat Exclusive > देश-विदेश > विकास का अंत प्रियंका का तंज, अपराध और उसको सरंक्षण देने वाले लोगों का क्या?

विकास का अंत प्रियंका का तंज, अपराध और उसको सरंक्षण देने वाले लोगों का क्या?

0
750

60 से ज्यादा आपराधिक मामलों में लिप्त उत्तर प्रदेश के कुख्यात अपराधी विकास दुबे का पुलिस एनकाउंटर के बाद उसके साम्राज्य का अंत हो गया. विकास की अन्य राज्य से गिरफ्तारी और अब उसके एनकाउंटर पर विपक्ष हमलावर हो गया है. अखिलेश के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी सवाल खड़ा करते हुए तंज कसा है.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने इस मामले को लेकर सवाल खड़ा करते हुए ट्वीट कर लिखा- अपराधी का अंत हो गया, अपराध और उसको सरंक्षण देने वाले लोगों का क्या?

कानपुर हत्याकांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे की मौत को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे है. पुलिस एनकाउंटर में मारे जाने के बाद भी पुलिस किसी भी सवाल का अभी जवाब देने के बचती हुई नजर आ रही है. माना जा रहा है कि जल्द ही उत्तर प्रदेश पुलिस इस मामले को लेकर प्रेस कान्फ्रेंस कर जानकारी देगी. लेकिन उससे पहले विपक्ष सवाल जरुर खड़ा कर रहा है.

इस पहले विकास की गिरफ्तारी के बाद भी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा था- कानपुर के जघन्य हत्याकांड में यूपी सरकार को जिस मुस्तैदी से काम करना चाहिए था, वह पूरी तरह फेल साबित हुई. अलर्ट के बावजूद आरोपी का उज्जैन तक पहुंचना, न सिर्फ सुरक्षा के दावों की पोल खोलता है बल्कि मिलीभगत की ओर इशारा करता है.

इतना ही नहीं उन्होंने एक अन्य ट्वीट में आरोप लगाते हुए कहा कि- तीन महीने पुराने पत्र पर ‘नो एक्शन’ और कुख्यात अपराधियों की सूची में ‘विकास’ का नाम न होना बताता है कि इस मामले के तार दूर तक जुड़े हैं. यूपी सरकार को मामले की CBI जांच करा सभी तथ्यों और प्रोटेक्शन के ताल्लुकातों को जगज़ाहिर करना चाहिए.

ये कार नहीं पलटी है, राज खुलने से सरकार पलटने से बचाई गयी है: अखिलेश यादव