Gujarat Exclusive > राजनीति > मोदी सरकार पर राहुल ने फिर बोला हमला, कहा-और कितने किसानों को देनी होगी कुर्बानी?

मोदी सरकार पर राहुल ने फिर बोला हमला, कहा-और कितने किसानों को देनी होगी कुर्बानी?

0
267

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लागू तीनों कृषि कानून के विरोध में किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है. किसानों के आंदोलन का आद 23 वां दिन है. Farmer death Rahul Gandhi

किसान राजधानी दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर कानून को रद्द करने की मांग को लेकट डटे हुए हैं. इस बीच जानकारी सामने आ रही है कि कृषि मंत्री ने एक बार फिर किसानों को लंबा खत लिखकर इसे पढ़ने की अपील की है.

सरकार की इस पहल से ऐसा लगता है कि किसानों के साथ बैठक कर कोई बीच का रास्ता निकालने की कोशिश कर रही है.

और कितने किसानों को देनी होगी कुर्बानी

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसान आंदोलन के मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार को एक बार फिर से घेरा है.

राहुल ने एक मीडिया रिपोर्ट के हवाले से दावा किया है कि किसान आंदोलन की वजह से अब तक 22 किसानों की मौत हो चुकी है.

मीडिया रिपोर्ट के साथ राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा “और कितने अन्नदाताओं को क़ुर्बानी देनी होगी? कृषि विरोधी क़ानून कब ख़त्म किए जाएँगे?.”

संत राम सिंह के निधन पर राहुल गांधी ने जताया दुख Farmer death Rahul Gandhi

हरियाणा के करनाल के रहने वाले बाबा राम सिंह ने बीते दिनों खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली थी.

इस मामले पर राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा था “करनाल के संत बाबा राम सिंह जी ने कुंडली बॉर्डर पर किसानों की दुर्दशा देखकर आत्महत्या कर ली. इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएँ और श्रद्धांजलि.

कई किसान अपने जीवन की आहुति दे चुके हैं. मोदी सरकार की क्रूरता हर हद पार कर चुकी है.” Farmer death Rahul Gandhi

गौरतलब है कि राहुल गांधी इससे पहले कोरोना वैक्सीन, कोरोना महामारी, चीन सीमा विवाद और कृषि कानून को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर लगातार हमला बोल रहे हैं.

किसान आंदोलन के बीच बीते दिनों विपक्षी दल के जिन 5 नेताओं ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की थी उसमें राहुल गांधी भी शामिल थे. Farmer death Rahul Gandhi

राष्ट्रपति से मुलाकात करने के बाद राहुल ने ट्वीट कर लिखा था “देश का किसान समझ गया है कि मोदी सरकार ने उन्हें धोखा दिया है और अब वो पीछे नहीं हटने वाला क्योंकि वो जानता है कि अगर आज समझौता कर लिया तो उसका भविष्य नहीं बचेगा. किसान हिंदुस्तान है! हम सब किसान के साथ हैं, डटे रहिए.”

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

किसानों के आंदोलन का 23 वां दिन, मध्य प्रदेश के किसानों संग PM मोदी करेंगे संवाद