Gujarat Exclusive > देश-विदेश > किसान आंदोलन का 17 वां दिन, दिल्ली की ओर बढ़ रहे हजारों किसान

किसान आंदोलन का 17 वां दिन, दिल्ली की ओर बढ़ रहे हजारों किसान

0
134

केंद्र की मोदी सरकार के द्वारा पारित तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ हजारों किसान दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर डंटकर आंदोलन कर रहे हैं. किसानों का आंदोलन 17 वें दिन भी जारी है.

बीते दिनों सरकार के प्रस्ताव को खारिज कर किसान नेताओं ने साफ कर दिया था कि कानून को रद्द करने ने नीचे उन्हे कुछ और मंजूर नहीं.

किसानों ने उसी दिन ऐलान कर दिया था कि अब आंदोलन को तेज कर दिया जाएगा. Farmers movement

किसानों ने आंदोलन को किया तेज Farmers movement

इस बीच जानकारी मिल रही है कि सिंधु बॉर्डर पर डंटे किसान अब दिल्ली की ओर रवाना हो रहे हैं. किसानों ऐलान किया था कि वह 12 तारीख को दिल्ली-जयपुर और दिल्ली आगरा हाईवे बंद करेंगे.

इसे देखते हुए दिल्ली-जयपुर हाईवे पर भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया है. इतना ही नहीं गुरूग्राम पुलिस के 2000 से ज़्यादा जवानों की तैनाती की गई है.

पंजाब से दिल्ली के लिए रवाना हुआ किसानों का नया काफिला Farmers movement

वहीं एक और जानकारी सामने आ रही है कि पंजाब के सात जिलों के लगभग 1,000 गांवों से 1,500 से अधिक वाहन, जिनमें 1,300 ट्रैक्टर-ट्रॉलियां दिल्ली की ओर आ रही है. Farmers movement

किसान मजदूर संघर्ष समिति के मुताबिक किसानों का यह नया दल प्रदर्शनकारियों का साथ देने के लिए पंजाब से रवाना हुआ है. नया काफिला रविवार तक दिल्ली सीमा तक पहुंचने की उम्मीद है.

कृषि कानून का विरोध करने वाले किसानों से 6 दौर की वार्ता हो चुकी है लेकिन कोई ठोस नतीजा नहीं निकला है. किसान संगठन तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग पर आज भी डंटे हुए हैं.

लेकिन सरकार कानून में कुछ संशोधन करने को तैयार है. लेकिन किसानों को संशोधन मंजूर नहीं. Farmers movement

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान संगठनों के नेताओं से प्रस्ताव पर विचार करने का आग्रह किया है और कहा कि वह किसानों के साथ बातचीत करने के लिए तैयार हैं.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

आंदोलनरत 11 किसानों की मौत, राहुल गांधी का सवाल- और कितने को देनी होगी आहुति