Gujarat Exclusive > यूथ > किसान आंदोलन: 300 KM साइकिल चलाकर किसानों का साथ देने दिल्ली पहुंचीं बलजीत कौर

किसान आंदोलन: 300 KM साइकिल चलाकर किसानों का साथ देने दिल्ली पहुंचीं बलजीत कौर

0
503

कृषि कानूनों के विरोध में शुरू हुआ किसान आंदोलन (Farmers Protest) शनिवार को 31वें दिन में प्रवेश कर गया. दिल्ली में किसानों को समर्थन देने के लिए पंजाब से साइकिल पर निकलीं 18 साल की गोल्ड मेडल साइकलिस्ट बलजीत कौर 300 किलोमीटर का सफर तय करके दिल्ली पहुंच गई हैं. बलजीत खटकड़ टोला प्लाजा से होकर निकलीं और दिल्ली पहुंच चुकी हैं.

बलजीत कौर अंडर-17 और 19 में पंजाब के लिए कई साइकलिंग में गोल्ड मेडल जीत चुकी है. वह पंजाब के संगरूर से निकल कर जींद के रास्ते दिल्ली के टिकरी बॉर्डर पर पहुंचीं.

यह भी पढ़ें: दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया की पारी 195 रनों पर सिमटी, भारत को शुरुआती झटका

इससे पहले हरियाणा के जींद में पहुंचते ही बलजीत कौर का फूल मालाओं से स्वागत किया गया. जींद में पहुंचने पर बलजीत कौर ने कहा कि लोगों को दिखाना है कि हम साइकिल तो क्या दौड़ कर भी किसान आंदोलन (Farmers Protest) में भाग ले सकते हैं. वो करीब एक हफ्ते तक बॉर्डर पर किसानों के साथ डटेंगी.

डटे हुए हैं किसान

अपनी मांगों को लेकर किसान दिल्ली के सिंघू, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर डटे (Farmers Protest) हुए हैं. अलग-अलग राज्यों से किसानों के धरनास्थल पर पहुंचने का सिलसिला लगातार जारी है. गाजीपुर बॉर्डर पर डटे किसानों का आरोप है कि UP और उत्तराखंड पुलिस-प्रशासन किसानों को वहां पहुंचने से रोक रहा है.

आज हो सकता है आखिरी फैसला

कृषि कानूनों  की वापसी को लेकर किसानों और केंद्र सरकार के बीच गतिरोध (Farmers Protest) बरकरार है. किसान यूनियनों ने बातचीत के लिए सरकार की नई पेशकश पर विचार के लिए शुक्रवार को बैठक की थी. संगठनों में से कुछ ने संकेत दिया कि वे मौजूदा गतिरोध (Farmers Protest) का हल खोजने के लिए केंद्र के साथ बातचीत फिर से शुरू करने का फैसला कर सकते हैं. यूनियनों ने कहा कि शनिवार यानी आज उनकी एक और बैठक होगी, जिसमें ठहरी हुई बातचीत को फिर से शुरू करने के लिए केंद्र के न्यौते पर कोई औपचारिक फैसला किया जाएगा.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें