Gujarat Exclusive > देश-विदेश > दिल्ली-जयपुर हाईवे पर उतरे राजस्थान के किसान, गृहमंत्री से मिले कृषि मंत्री

दिल्ली-जयपुर हाईवे पर उतरे राजस्थान के किसान, गृहमंत्री से मिले कृषि मंत्री

0
317

किसान आंदोलन (Farmers Protest) की आग अब धीरे-धीरे देश के दूसरे राज्यों में भी दिखाई देने लगी है. दिल्ली बॉर्डर पर किसान आंदोलन (Farmers Protest) का आज 18वां दिन है. किसान यूनियन की पंजाब इकाई ने दिल्ली-जयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग को शनिवार को बंद करने की चेतावनी दी थी. लेकिन हाईवे बंद कराने कोई नेता नहीं पहुंचा. हालांकि रविवार को इसका असर दिखने लगा.

राजस्थान के शाहजहांपुर में हरियाणा बॉर्डर के पास किसानों (Farmers Protest) ने जाम लगा दिया है. इसकी वजह से दिल्ली जयपुर नेशनल हाइवे जाम हो गया है. इसके बाद पुलिस ने बहरोड से वाहनों को डायवर्ट कर दिया है. हाईवे पर भारी संख्या में किसान (Farmers Protest) जमा हो गए हैं. नेशनल हाईवे पर लंबा जाम लग गया है.

यह भी पढ़ें: अमित शाह के आवास पर धरना देने जा रहे आप विधायकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

इस बीच गृह मंत्री अमित शाह ने नई दिल्ली में पंजाब बीजेपी नेताओं के साथ बैठक बुलाई है. इस बैठक में अश्विनी शर्मा, सोमप्रकाश समेत पंजाब भाजपा के कई नेता शामिल हैं.

सीमा पर बढ़ाई गई चौकसी

किसानों (Farmers Protest) द्वारा जयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग-8 को बंद करने की योजना के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी की हरियाणा से लगती सीमा पर चौकसी बढ़ा दी है. शहर की पुलिस ने अतिरिक्त कर्मियों की तैनाती करके और ज्यादा संख्या में कंक्रीट के अवरोधकों लगाकर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है.

पंजाब के डीआईजी का इस्तीफा

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन (Farmers Protest) कर रहे किसानों के समर्थन में पंजाब के डीआईजी (जेल) लखमिंदर सिंह जाखड़ ने इस्तीफा दे दिया है. जाखड़ ने कहा कि उन्होंने रविवार को इस्तीफा दिया है. लखमिंदर सिंह जाखड़ ने पंजाब के प्रधान सचिव को पत्र लिख कर कहा है कि उन्हें समय पूर्व रिटायर माना जाए. लखमिंदर सिंह जाखड़ ने कहा कि वे सूचित करना चाहते हैं वे अपने किसान भाइयों के साथ खड़ा होना चाहते हैं जो कृषि कानूनों के खिलाफ शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन कर रहे हैं. उधर अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव हन्नान मोल्लाह का कहना है कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीनों कृषि कानूनों को रद्द करना ही किसानों की एकमात्र मांग है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

सरदार पटेल की अनदेखी, अहमदाबाद एयरपोर्ट रोड पर लगा अडाणी का बोर्ड