Gujarat Exclusive > गुजरात > गुजरात के कोरोना अस्पताल में फिर लगी आग, वार्ड से मरीजों को निकाला गया

गुजरात के कोरोना अस्पताल में फिर लगी आग, वार्ड से मरीजों को निकाला गया

0
1020

अभी अहमदाबाद के एक कोरोना अस्पताल में आग की घटना से उठा विवाद शांत नहीं हुआ था कि एकबार फिर गुजरात के एक और अस्पताल में आग की घटना सामने आई है. गुजरात के छोटा उदयपुर जिले के बोदेली शहर में दो मंजिला अस्पताल के कोविड-19 वार्ड में बुधवार आग लग गई.

खबरों के मुताबिक, बोदेली ढोकलिया पब्लिक हॉस्पिटल की दूसरी मंजिल पर आग लग गई.
हालांकि इस आग में कोई हताहत नहीं हुआ.

यह भी पढ़ें : गुजरात के इन जिलों में अगले 5 दिनों में अतिभारी बारिश का पूर्वानुमान

वार्ड में इलाज करा रहे कोविड-19 के 10 रोगियों को अस्पताल की निचली मंजिल पर स्थानांतरित कर दिया गया.
उनमें से कुछ को बाद में दूसरे अस्पतालों में भर्ती कराया गया.

जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने क्या कहा

जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. महेश चौधरी ने कहा,

“बुधवार सुबह कोविड​​-19 वार्ड के स्विच बोर्ड में शॉर्ट-सर्किट के बाद आग लग गई. कर्मचारियों ने अग्निशामक की मदद से आग पर काबू पाया गया.
एहतियात के तौर पर, कर्मचारियों ने सभी 10 मरीजों को निचली मंजिल पर भेज दिया.”

चौधरी ने कहा कि बाद में तीन मरीजों को कोरोना वायरस की जांच में संक्रमित नहीं पाए जाने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई जबकि सात रोगियों को छोटा उदयपुर शहर के अन्य अस्पतालों में स्थानांतरित कर दिया गया.
अस्पताल की दूसरी मंजिल को एक कोविड-19 वार्ड में परिवर्तित कर दिया गया था.

चौधरी ने कहा, “आग मामूली थी और हादसे में किसी व्यक्ति या संपत्ति को नुकसान नहीं पहुंचा.
दूसरी मंजिल पर बिजली के तारों की जांच करने और बदलने में समय लगेगा.
इसलिए हमने कोरोना वायरस रोगियों को कहीं और स्थानांतरित करने का फैसला किया है.”
सात मरीजों में से दो को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया.
वहीं पांच को छोटा उदयपुर शहर के पॉलिटेक्निक कॉलेज में स्थापित कोविड देखभाल केंद्र में स्थानांतरित कर दिया गया.

श्रेय अस्पताल में हुई थी 6 मरीजों की मौत

इस महीने गुजरात में कोरोना अस्पताल में आग लगने की यह दूसरी घटना है.
इससे पहले 6 अगस्त को अहमदाबाद के श्रेय अस्पताल की आईसीयू में आग लगने से 8 कोरोना रोगियों की मौत हो गई थी.

जब शुरुआती जांच में पता चला था कि अस्पताल के पास फायर एनओसी नहीं थी.
इसके बाद अस्पताल के मालिक को गिरफ्तार करके पूछताछ की जा रही है.

गुजराती में ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें