Gujarat Exclusive > देश-विदेश > कोरोना से जंग के लिए पीएम केयर्स फंड से 3100 करोड़ आवंटित, प्रवासी मजदूरों के लिए 1000 करोड़

कोरोना से जंग के लिए पीएम केयर्स फंड से 3100 करोड़ आवंटित, प्रवासी मजदूरों के लिए 1000 करोड़

0
684

प्राइम मिनिस्टर सिटीजन असिस्टेंस एंड रिलीफ इन इमरजेंसी सिचुएशन (पीएम केयर्स) फंड ट्रस्ट ने तकरीबन 3100 करोड़ रुपए की राशि कोरोना के खिलाफ जंग के लिए आवंटित करने का फैसला किया है. 3100 करोड़ रुपए में से तकरीबन 2,000 करोड़ रुपए वेंटिलेटर की खरीद पर,1,000 करोड़ रुपये प्रवासी मजदूरों की राहत के लिए और 100 करोड़ रुपये कोरो नावायरस की वैक्सीन के विकास कार्य के लिए दिए जाएंगे.

पीएम केयर्स ट्रस्ट की शुरुआत 27 मार्च 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई थी. रक्षा मंत्री, गृह मंत्री और वित्त मंत्री इसके सदस्य हैं. इस फंड की घोषणा करते वक्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फंड में दान देने वाले सभी लोगों के प्रति आभार जताया.

खरीदे जाएंगे 50,000 वेंटीलेटर

कोरोना के खिलाफ जंग में भारत के मेड इन इंडिया 50 हजार वेंटिलेटर खरीदे जाएंगे. जिसके लिए कुल 2,000 करोड रुपए की राशि आवंटित की गई है. यह वेंटीलेटर सभी राज्यों के सरकारी अस्पतालों को मुहैया कराए जाएंगे.

प्रवासी मजदूरों पर 1000 करोड़

प्रवासी मजदूरों के लिए राहत की बात की जाए तो गरीबों और प्रवासी मजदूरों की भलाई के लिए राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कुल 1,000 करोड़ रुपए की राशि दी जाएगी. यह राशि राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के जिला कलेक्टर/निगम कमिश्नर को दी जाएगी. इसकी मदद से गरीब और मजदूरों के लिए रहने की सुविधा, खाने की सुविधा, मेडिकल सुविधा और यातायात की सुविधा की व्यवस्था की जा सके. राज्य की आबादी, कोरोना मरीजों की संख्या और हर राज्य के हिस्से की राशि के अनुसार फंड आवंटित किया जाएगा. फंड सीधे तौर पर राज्य के आपदा राहत कमिश्नर द्वारा डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर/डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट/म्युनिशिपल कमिश्नर तक पहुंचाया जाएगा.

कोरोना की वैक्सीन के विकास पर 100 करोड़

कोरोना महामारी से निपटने के लिए भारत में भी वैक्सीन को लेकर कार्य प्रगति पर है. तमाम अकादमिक जगत, स्टार्टअप और उद्योग जगत के लोग इसकी वैक्सीन के विकास के लिए कार्य कर रहे हैं. वैक्सीन के डिजाइन और विकास के लिए 100 करोड़ रुपए की राशि आवंटित की गई है.

बीते 24 घंटे में गुजरात में कोरोना से 29 की मौत, 364 नए मामलों से मरीजों की संख्या 9 हजार पार